Breaking

आम आदमी पार्टी (AAP): सत्ता में आए तो देवस्थानम बोर्ड को भंग कर देंगे | Uttarakhand News

आम आदमी पार्टी (AAP): सत्ता में आए तो देवस्थानम बोर्ड को भंग कर देंगे | Uttarakhand News
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ उत्तराखंड राज्यके आप प्रभारी दिनेश मोहनिया (बाएं) और कर्नल अजय कोठियाल (दाएं) देहरादून में अपने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए। (PTI )


देहरादून: आम आदमी पार्टी (AAP) ने कहा है कि आगामी विधानसभा चुनावों में पार्टी के सत्ता में आने पर विवादास्पद देवस्थानम बोर्ड भंग हो जायेगा । आप (AAP) ने देवस्थानम बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के लिए राज्य सरकार की आलोचना करते हुए यह दावा किया कि सत्तारूढ़ दल (भाजपा )ने "परिषद के गठन के साथ सदियों पुरानी परंपराओं को बर्बाद कर दिया है"। 


उत्तराखंड में पार्टी के सीएम उम्मीदवार कर्नल अजय कोठियाल (सेवानिवृत्त) ने कहा, "आम आदमी पार्टी (AAP) शुरू से ही देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ रही है। उन्होंने कहा की सत्ता में आने पर आम आदमी पार्टी (AAP) इसे ख़ारिज कर देगी। " 


उत्तराखंड में भाजपा सरकार ने उन्होंने आगे कहा कि उत्तराखंड में भाजपा सरकार ने बोर्ड के खिलाफ चार धाम तीर्थस्थलों के पुजारियों द्वारा चल रहे विरोध प्रदर्शन के प्रति आंखें मूंद ली हैं। कोठियाल के अनुसार, सरकार ने बोर्ड बनाते समय पुराने रीति-रिवाजों को ध्यान में नहीं रखा, उन्होंने कहा, “उन्होंने पुजारियों और मंदिर समितियों पर निर्णय थोप दिया।”


आप ने आरोप लगाया कि सरकार देवस्थानम बोर्ड के माध्यम से देवभूमि की धार्मिक मान्यताओं और परंपराओं पर कानूनी शिकंजा कसने की कोशिश कर रही है।


विशेष रूप से, चार धाम तीर्थस्थलों के पुजारियों और मंदिर समिति के सदस्यों ने 2019 में राज्य सरकार द्वारा गठित बोर्ड के खिलाफ अपना विरोध तेज कर दिया है।


केदारनाथ धाम के पुजारी आचार्य संतोष त्रिवेदी ने 11 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खून से पत्र लिखकर चार धाम देवस्थानम बोर्ड को तत्काल खत्म करने की मांग की थी।


चार धाम मंदिर के पुजारी, जो इस साल 12 जून से बोर्ड के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं, सरकार पर "देरी करने की रणनीति" का आरोप लगा रहे हैं।

वहीं सरकार ने कहा है कि मामले की जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है.


31 अगस्त को सर्वाधिक पढ़े जाने समाचार 

Uttarakhand Weather News : बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे समेत 659 सड़कें बंद, कई जिलों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट 


Post a Comment

Previous Post Next Post

उत्तराखंड हिंदी न्यूज की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें


Contact Form