टिहरी में पांच रुपये खाते में डालकर ठग लिए एक लाख रुपये, जानिए पूरा मामला

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

 नई टिहरी। साइबर ठगों ने नई टिहरी के एक ठेकेदार के खाते में पांच रुपये डालकर एक लाख रुपये ठग लिए। ठेकेदार ने समय पर साइबर सेल को सूचना दे दी। जिसके बाद टिहरी साइबर सेल ने 84 हजार रुपये रिकवर करा दिए। नई टिहरी मोलधार निवासी रघुवीर लाल कंडीखाल में ठेकेदारी करते हैं। चार जनवरी को उनके पास एक अंजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने कहा कि कुछ रुपये खाते में डालने हैं, जिन्हें वह बाद में ले लेगा।

ठेकेदार ने मना कर दिया। इस पर फोन करने वाले ने एक व्यक्ति से ठेकेदार की बात करवाई। जिसके बाद ठेकेदार ने हामी भर दी। ठग ने पहले पांच रुपये रघुवीर लाल के खाते में डाले। उसके बाद रघुवीर लाल को एक लिंक भेजा। जिस पर क्लिक करने के बाद और पैसे भेजने की बात कही। इस पर ठेकेदार ने लिंक पर क्लिक कर दिया। जिसके बाद ठेकेदार के खाते से रुपये उड़ने शुरू हो गए। ठेकदार के खाते से इस तरह कुल एक लाख रुपये उड़ गए। ठगी का अहसास होते ही ठेकेदार ने नई टिहरी कोतवाली में शिकायत दी। सा

सेल प्रभारी आशीष कुमार ने जांच की तो पता चला कि ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी से ठग ने उक्त धनराशि से कुछ सामान खरीदने का आर्डर किया था। जिसके बाद साइबर सेल ने उक्त रुपये की रिकवरी करने के लिए कंपनी से कहा। बुधवार को 84 हजार रुपये रिकवरी की गई। बाकि धनराशि को रिकवर करने के प्रयास किए जा रहे हैं। 

बोले अधिकारी

तृप्ति भट्ट (वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक टिहरी गढ़वाल) ने कहा कि ऑनलाइन और साइबर क्राइम से बचने के लिए सतर्क रहना जरूरी है। थोड़ी सी भी लापरवाही ठगी का शिकार बना सकती है। इसके लिए जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। 

अवैध शराब के साथ गिरफ्तार 

बीते रोज नई टिहरी कोतवाली पुलिस ने चेकिंग के दौरान रणवीर सिंह निवासी बालमा को 55 क्वाटर अवैध शराब के साथ गिरफ्तार किया। आरोपित के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी देखें - 

चमोली के आसन और चंबा के स्वेटर की धूम, ऑनलाइन खूब बिक रहे उत्तराखंड के 50 उत्पाद

Source