दस हजार रुपये फीस जमा करो, आईटीआई में पाओ प्रवेश

 ​

कॉलेज स्टूडेंट
प्रतीकात्मक

 हल्द्वानी। राज्य के छह चुनिंदा राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में 10 हजार रुपये फीस देकर वे छात्र भी दाखिला ले सकते हैं जो दाखिला परीक्षा में चयन सूची में स्थान नहीं पा सके थे। नए सत्र से यह व्यवस्था लागू कर दी गई है। यह व्यवस्था सिर्फ इलेक्ट्रीशियन, फिटर और मेकेनिक मोटर व्हीकल ट्रेड के लिए है। दूसरी तरफ प्रदेश के 79 प्रशिक्षण संस्थानों में रिक्त सीटों पर दाखिले फिर से खोल दिए गए हैं। केंद्र सरकार के रोजगार एवं प्रशिक्षण महानिदेशालय की ओर से आदेश आने पर यह सुविधा दी जा रही है। इन सीटों पर निर्धारित सरकारी फीस से ही प्रवेश होंगे। इसकी अंतिम तिथि 16 जनवरी है।

प्रदेश के प्रशिक्षण निदेशालय ने नए सत्र वर्ष 2020-21 से प्रदेश की छह आईटीआई में तृतीय शिफ्ट शुरू कर दी है। इस योजना के तहत तृतीय शिफ्ट में प्रवेश अतिरिक्त शुल्क (पेड) लेकर किए जा रहे हैं। इसमें प्रवेश के लिए दस हजार रुपये शुल्क निर्धारित किया गया है। तृतीय शिफ्ट की कक्षाओं में पढ़ाने के लिए अलग से आउटसोर्स पर अनुदेशक तैनात किए जाएंगे। निदेशालय के अधिकारियों के मुताबिक हल्द्वानी आईटीआई (युवक) में इलेक्ट्रीशियन और फिटर ट्रेड में 20-20 सीटें हैं। इनमें से 31 पर प्रवेश हो चुके हैं। इसी तरह पिथौरागढ़ आईटीआई में इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में 20 में से 12 सीटों पर प्रवेश हुए हैं। गढ़वाल के टिहरी जिले की आईटीआई चंबा में फिटर ट्रेड की 20 सीट थीं जो भर गई हैं। उत्तरकाशी जिले की आईटीआई बरकोट में इलेक्ट्रीशियन और फिटर ट्रेड दोनों में 20-20 सीटें हैं इन पर प्रवेश की प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा आईटीआई देहरादून (युवक) में इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में 40 सीट में से 37 और फिटर ट्रेड में 40 में से 24 सीटें भर गईं हैं जबकि मेकेनिक मोटर व्हीकल ट्रेड में 24 सीटों में अभी सात सीटें खाली हैं। इन पर प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। आईटीआई राजपुर रोड देहरादून में इलेक्ट्रीशियन में 20, फिटर में 20, मैकेनिक मोटर व्हीकल ट्रेड में 24 सीटें दी गईं हैं।


राज्य की छह आईटीआई में तृतीय शिफ्ट शुरू की गईं है जिसमें विभिन्न ट्रेडों में कुल 288 सीटें निर्धारित की गईं हैं। इन सीटों पर प्रवेश के लिए दस हजार फीस तय की गई है। इतनी फीस इसलिए तय की गई क्योंकि इसी फीस से इन बच्चों को ट्रेनिंग देने के लिए आउटसोर्स पर अनुदेशकों की व्यवस्था करनी होगी।

- जेएम नेगी उपनिदेशक, प्रशिक्षण निदेशालय

Source

Previous Post Next Post