उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में 118 मरीजों की मौत, 7120 नए संक्रमित मिले, मृतकों की संख्या चार हजार पार

कोरोना वायरस की जांच
कोरोना वायरस की जांच 

 उत्तराखंड में मंगलवार को 24 घंटे के अंदर 118 मरीजों की मौत हुई और 7120 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। वहीं आज प्रदेश में मृतकों की संख्या चार हजार पार हो गई है। आज 4933 मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। प्रदेश में अब तक 2 लाख 56 हजार 934 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं, जिसमें से 1 लाख 71 हजार 454 मरीज स्वस्थ हुए हैं। साथ ही एक्टिव केस की संख्या 76500 पहुंच गई है।


स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार को 29650 सौंपलों की जांच हुई। साथ ही 20808 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। जबकि देहरादून जिले में सबसे अधिक 2201 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं।


हरिद्वार जिले में 649, नैनीताल में 1152, ऊधमसिंह नगर में 813, पौड़ी में 329, टिहरी में 296, रुद्रप्रयाग में 368, पिथौरागढ़ में 165, उत्तरकाशी में 586, अल्मोड़ा में 302, चमोली में 155, बागेश्वर में 24 और चंपावत में 80 संक्रमित मिले। वहीं, प्रदेश में अब तक 4014 मरीजों की मौत हो चुकी है। साथ ही प्रदेश में कंटेनमेंट जोन की संख्या भी 422 पहुंच गई है। 


राज्य मानसिक अस्पताल में सीएमएस समेत 16 को कोरोना

सेलाकुई स्थित राज्य मानसिक अस्पताल में सीएमएस समेत 16 लोगों को कोरोना हो गया है। इसमें सहायक स्टाफ के साथ ही आठ मानसिक रोगी भी शामिल हैं। मानसिक रोगियों को कोविड अस्पतालों ने भर्ती करने के इनकार कर दिया, जिसके बाद मानसिक अस्पताल में ही उन्हें आइसोलेट कर दवा शुरू कर दी गई है।

 

कोरोना की दूसरी व तीसरी लहर से निपटने को हाई पावर टास्क फोर्स का गठन

कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहे राज्य में महामारी के बढ़ते प्रकोप के प्रबंधन के लिए मुख्य सचिव ओम प्रकाश की अध्यक्षता में कोविड-19 हाई पावर टास्क फोर्स का गठन किया गया है। यह टास्क फोर्स कोरोना की तीसरी लहर से पूर्व नियंत्रण को लेकर रणनीति भी बनाएगी। मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने मंगलवार को टास्क फोर्स गठन के आदेश जारी किए।


जारी आदेश में कहा गया है कि राज्य में कोविड-19 महामारी का प्रकोप बढ़ रहा है। इसके प्रबंधन के लिए हाई पावर टास्क फोर्स बनाई गई है। यह फोर्स राज्य में महामारी के प्रबंधन के लिए लगातार समीक्षा करेगी। तात्कालिक आवश्यकता को देखते हुए प्रभावी निर्णय लेगी। भविष्य की महामारी के नियंत्रण के लिए रणनीति तैयार करेगी।


टास्क फोर्स में अपर मुख्य सचिव नियोजन मनीषा पंवार, सचिव  स्वास्थ्य व वित्त अमित सिंह नेगी, सचिव मुख्यमंत्री शैलेश बगौली, सचिव वित्त सौजन्या, सचिव स्वास्थ्य डॉ. पंकज कुमार पांडेय, मिशन निदेशक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन सोनिका, उत्तराखंड चिकित्सा विवि के कुलपति, महानिदेशक, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, डॉ. भार्गव गायकवाड़, एमडी कम्युनिटी मेडिसिन, प्रभारी अधिकारी, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन व मुख्य सचिव की अनुमति से विशेष आमंत्रित सदस्य शामिल किए गए हैं।


सांस लेने में दिक्कत होने पर विधायक चौधरी व पत्नी अस्पताल में भर्ती

रुद्रप्रयाग में कोरोना संक्रमित विधायक भरत सिंह चौधरी और उनकी पत्नी का ऑक्सीजन लेवल कम होने पर उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने लगी। तबीयत बिगड़ने पर उन्हें शंकराचार्य अस्पताल कोटेेश्वर में भर्ती कराया गया। इलाज के बाद उनके स्वास्थ्य में सुधार है।


मंगलवार को सुबह 10 बजे विधायक चौधरी व उनकी पत्नी की अचानक तबीयत बिगड़ गई। ऑक्सीजन लेवल कम होने के कारण उन्हें सांस लेने में दिक्कत होने लगी। इसके बाद उनके बेटों ने उन्हें तत्काल कोटेश्वर स्थित शंकराचार्य अस्पताल में भर्ती कराया।


जहां चिकित्सकों ने उन्हें आईसीयू में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया। उपचार के बाद उनका ऑक्सीजन लेवल सामान्य हो गया। बता दें कि विधायक चौधरी व उनकी पत्नी एक सप्ताह पूर्व कोरोना संक्रमित हो गए थे। वे होम आइसोलेशन में रहते हुए दवा ले रहे थे।


वहीं विधायक के अस्पताल में भर्ती होने की खबर वायरल होने के बाद उनके समर्थक, भाजपा कार्यकर्ता और शुभचिंतकों ने भगवान केदारनाथ व मां हरियाली देवी से उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की। इधर स्वास्थ्य विभाग की टीम के अनुसार विधायक के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है।

Source


Post a Comment

Previous Post Next Post