जेईई मेन 2021 रिजल्ट:  99.98 परसेंटाइल के साथ उत्तराखंड में हरप्रीत सिंह बने टॉपर

 

जेईई मेन परीक्षा के फरवरी 2021 सत्र का रिजल्ट
जेईई मेन परीक्षा के फरवरी 2021 सत्र का रिजल्ट

ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) मेन में हरप्रीत सिंह ने उत्तराखंड टॉप किया है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से जारी राज्यवार सूची के अनुसार हरप्रीत सिंह ने 99.98 परसेंटाइल अंक हासिल किए हैं। 24 से 26 फरवरी तक परीक्षा का आयोजन किया गया था। परीक्षा विशेषज्ञ डीके मिश्रा ने बताया कि चयनित छात्रों को अब जेईई एडवांस में बैठने का मौका मिलेगा।



उन्होंने बताया कि विस्तृत परिणाम मंगलवार सुबह देखे जा सकेंगे। जेईई विशेषज्ञ विपिन बलूनी ने बताया कि अब जेईई परीक्षा साल में चार बार आयोजित की जा रही है। प्रत्येक तीन माह के अंतराल में परीक्षा का आयोजन होता है। इससे छात्रों के पास सफलता हासिल करने के ज्यादा मौके हैं।



ऐसे चेक करें रिजल्ट

- सबसे पहले अभ्यर्थियों को जेईई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

- जेईई की आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in है।

- यहां होम पेज पर ही अभ्यर्थियों को जेईई परीक्षा का लिंक मिलेगा।

- जिस पर क्लिक करने के बाद अभ्यर्थियों को अपनी जानकारी भरनी होगी।

- इसके बाद अभ्यर्थियों का रिजल्ट खुल जाएगा जिसे वे डाउनलोड कर सकते हैं।

- ध्यान रहे कि जेईई मेन 2021 परीक्षा का रिजल्ट आधिकारिक घोषणा के बाद ही खुलेगा। 


देश में छह छात्रों को 100 पर्सेंटाइल  

जेईई मेन 2021 के फरवरी सत्र के सोमवार को जारी नतीजों में दिल्ली के दो छात्रों ने टॉप 3 में जगह बनाई है। ऑल इंडिया टॉपर राजस्थान के साकेत झा के बाद दिल्ली के प्रवर कटारिया और रंजिम प्रबल दास क्रमश: दूसरे व तीसरे स्थान पर रहे। जेईई मेन में छह छात्रों ने 100 पर्सेंटाइल हासिल किए। छात्राओं में तेलंगाना की सरनाया टॉपर रहीं। वहीं यूपी की पाल अग्रवाल ने प्रदेश में टॉप किया। 


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने सोमवार को देरशाम पेपर-1 के नतीजे जारी किए। इसमें चंडीगढ़ के गुरअमृत को चौथा और महाराष्ट्र के सिद्धांत मुखर्जी पांवचें स्थान पर रहे। वहीं गुजरात के अनंत कृष्ण किदांबी ने छठवां स्थान हासिल किया। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने 24 से 26 फरवरी को परीक्षा आयोजित की थी और महज दस दिनों में रिजल्ट जारी कर दिया। पहली बार यह परीक्षा हिंदी, अंग्रेजी समेत 13 भारतीय भाषाओं में आयोजित हुई थी। इसमें 6.52 लाख परीक्षार्थियों ने पंजीकरण कराया और 6,20,978 ने परीक्षा दी थी।


जेईई एडवांस परीक्षा तीन जुलाई को

इस साल जेईई एडवांस परीक्षा तीन जुलाई को आयोजित होगी। आपको बता दें कि जेईई परीक्षा का आयोजन इस साल चार चरणों में हो रहा है। पहले चरण की परीक्षा हो चुकी है और अब मार्च, अप्रैल और मई चरणों की परीक्षा होनी है। इसके लिए एनटीए ने  परीक्षा केंद्र बढ़ाने का फैसला लिया है। 

Source