Dehradun News : काम रह गए अधूरे, बुधवार को वाहनों के लिए नहीं खुल सका प्रदेश का सबसे लंबा फ्लाईओवर

 
फ्लाईओवर
फ्लाईओवर

राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 पर के नवनिर्मित हरिपुरकलां फ्लाईओ वर पर बुधवार को वाहन फर्राटा नहीं भर सके। फ्लाईओवर पर काम के चलते कार्यदायी संस्था के अधिकारी देर रात तक फ्लाइओवर को खुलवाने की बात कहते रहे। देर रात तक फ्लाईओवर पर काम चल रहा था। 

रायवाला के जंगल से हरिपुरकलां मुख्य बाजार तक करीब दो किलोमीटर लंबे फ्लाइओवर को बुधवार को वाहनों के लिए खोला जाना था। फ्लाइओवर पर फाइनल काम के चलते यह वाहनों के लिए नहीं खुल पाया। दो दिन पहले ट्रायल कर हाईवे प्रशासन की ओर से सभी तैयारियों को पूरा कर लिया गया था।

लेकिन इंजीनियरों के कहने पर कुछ स्थानों पर अभी काम किया जाना है। बुधवार देर रात तक कार्यदायी संस्था के मजदूर फ्लाइओवर को फाइनल टच देने में जुुटे थे। उम्मीद की जा रही है कि बृहस्पतिवार दोपहर बाद यह फ्लाइओवर वाहनों के लिए खोला जा सकता है।  

कार्यदायी संस्था के मुख्य परियोजना प्रबंधक सतीश कुमार ने बताया कि बुधवार को फ्लाईओवर को यातायात के लिए खोल दिया जाना था। लेकिन काम होने के कारण फ्लाइओवर वाहनों के लिए नहीं खोला जा सका।


स्थानीय लोगों के लिए टोल बैरियर शुल्क माफ रखने की मांग 

देहरादून हरिद्वार हाईवे के लिए लच्छीवाला में बनाया गया टोल बैरियर स्थानीय लोगों के लिए फ्री रखने की मांग को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एनएचआई को ज्ञापन भेजा है। कहा है कि क्षेत्र के लोगों ने राजमार्ग बनाने के लिए अपनी जमीनें दी हैं। ऐसे में उनके लिए टोल माफ होना चाहिए। 

मंगलवार को जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गौरव चौधरी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एसडीएम कार्यालय पहुंचकर ज्ञापन सौंपा। कांग्रेस जिलाध्यक्ष गौरव चौधरी ने कहा कि डोईवाला और उसके आसपास के इलाकों के लोगों को दिन में कई बार देहरादून शहर के लिए आना जाना पड़ता है। ऐसे में उनसे बार बार शुल्क वसूला जाएगा।

कहा कि डोईवाला परिक्षेत्र के 20 किमी के दायरे में आने वाले लोगों के लिए टोल पूरी तरह से माफ होना चाहिए। ज्ञापन देने वालों में कार्यकारी ब्लॉक अध्यक्ष रणजीत सिंह बॉबी, गन्ना समिति अध्यक्ष मनोज नौटियाल, ईश्वरचंद पाल, संजय खत्री, मोहित उनियाल, शेर सिंह पाल, सुशील कुमार, अशोक कुमार, जसवंत सिंह, राहुल सैनी, दिनेश कुमार, विजय सिंह, प्रीतपाल सिंह, नईम अहमद, फुरकान अली, गौरव मल्होत्रा, सतनाम सिंह आदि मौजूद रहे।

Source