मौसम की मार: भूस्खलन और पहाड़ियों के दरकने से चमोली की 51 सड़कें बंद, बढ़ रहा नदियों का जलस्‍तर


 भूस्खलन और पहाड़ियों के दरकने और सड़कों पर मलवा आने से चमोली जिले में 51 ग्रामीण सड़कें बंद हैं। बुधवार को आई बारिश और रात भर जमीनों के दरकने से सड़कों पर मलवा आ गया और बदरीनाथ हाइवे कर्णप्रयाग के निकट बाबा आश्रम और लंगासू समेत कई स्थानों पर रास्‍ता बाधित हो गया। इसे गुरुवार को 11 बजे ठीक करके यातायात बहाल किया जा सका। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी एन के जोशी ने बताया क‍ि बंद लिंक मार्गों को खोलने के लिये युद्ध स्तर पर कार्य किया जा रहा है ।

उधर, आपदा और भूस्खलन की दृष्टि से संवेदनशील रैणी के आस पास फिर मलवा आ रहा है। रैणी के ग्राम प्रधान भवान सिंह ने बताया जोशीमठ मलारी हाइवे रैणी के पास जमीन दरकने से सड़क को फिर नुकसान की सम्भावना बनी है ।


गुरुवार को जिले के दशोली विकास खड के कुहेड, मैठाणा, मथरपाल धारकोट मोटर मार्ग गरमथा तोक के समीप अवरूद्ध हो गया। ग्रामीणों ने सामुदायिक सहयोग से अस्थाई तौर पर  बाधित सड़क खोलीं हैं।

Source