उत्तराखंड में ताउते का असर: मूसलाधार बारिश ने तोड़ा 105 वर्षों का रिकॉर्ड, सबसे ठंडा रहा मई का महीना

उत्तराखंड में बारिश - फोटो : अमर उजाला फाइल फोटो

 उत्तराखंड में मई के महीने में इस बार मौसम ने पुराने सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर नया रिकॉर्ड बनाया है। नैनीताल जिले में मई माह की औसत बारिश 67.5 मिलीमीटर है, जबकि 20 मई 2021 तक 146 मिली मीटर बारिश हो चुकी है। पिछले 24 घंटों में 90 मिली मीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक रोहित थपलियाल का कहना है कि 105 वर्षों बाद मई माह में इतनी बारिश हुई है और यह माह सबसे ठंडा रहा। वर्ष 1916 में 71 मिली मीटर बारिश 24 घंटों में हुई थी। 



कुदरत का कहर: चकराता में अतिवृष्टि से छानियों पर गिरा भारी मलबा, पिता-बेटी समेत तीन की दबने से मौत,



ताउते और पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम का मिजाज सोमवार से ही बिगड़ गया था। सोमवार और मंगलवार को बादलों ने आसमान पर डेरा डाल रखा। बुधवार से बारिश शुरू हुई तो यह बृहस्पतिवार को भी जारी रही। लगातार बारिश के कारण अधिकतम तापमान भी 13 डिग्री सेल्सियस गिरकर 23.9 पर पहुंच गया है।


बादलों का कहर: मलबा आने से बंद हुआ बदरीनाथ हाईवे, कई मशीनें दबीं, अलकनंदा का जलस्तर बढ़ा, तस्वीरें...


थपलियाल ने बताया कि ऊधमसिंह नगर में वर्ष 1986 में 85 मिली मीटर बारिश हुई थी। बृहस्पतिवार की शाम तक ऊधमसिंह नगर में 75 मिली मीटर बारिश हो चुकी थी। कुमाऊं के चार अन्य जिलों में भी सामान्य से अधिक बारिश हो चुकी है। 

कब कितनी बारिश हुई

वर्ष     अधिकतम तापमान   न्यूनतम तापमान    बारिश

2009    38.5                           24.3                  00

2010    40.0                           22.5                  00

2011    32.4                          24.1                   00 

2012    38.2                          21.4                   00

2013    38.4                          27.4                   00

2014    39.0                          20.5                   00 

2015    38.5                          22.5                   00

2016    38.2                          26.4                  00 

2017    38.0                          22.1                  00

2018    37.5                          21.4                  00 

2019    38.0                         20.9                  00

2020    39.0                          16.8                 00

2021    23.9                           20.1                90

पर्वतीय क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना

झमाझम बारिश के कारण अधिकतम और न्यूनतम पारा लुढ़क गया है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले 24 घंटों में पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा और नैनीताल जिलों में बिजली की चमक के साथ हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है।


बृहस्पतिवार को भी मूसलाधार बारिश के कारण अधिकतम तापमान 23.9 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 20.1 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम तापमान सामान्य से 13 डिग्री सेल्सियस कम, जबकि न्यूनतम तापमान भी सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस कम रहा।  दूसरी ओर आद्रता 85 प्रतिशत रही और 3.2 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर पश्चिम दिशा से हवा चली। मुक्तेश्वर में अधिकतम तापमान 14.0 और न्यूनतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान सामान्य से दस और न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम रहा।

Source

Post a Comment

Previous Post Next Post