Header Advertisement

Corona in Uttarakhand: शुक्रवार को मिले 186 नए संक्रमित, एक मरीज की हुई मौत

कोरोना वायरस की जांच
कोरोना वायरस की जांच 

 आंकड़ा 99258 पहुंच गया है। जिसमें से 94916 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।



स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार को 13246 सैंपल निगेटिव मिले हैं। वहीं, देहरादून और हरिद्वार जिले में संक्रमितों का ग्राफ बढ़ रहा है। देहरादून जिले में 65 कोरोना मरीज मिले। जबकि, हरिद्वार में 58, नैनीताल में 14, टिहरी में 18, अल्मोड़ा और पौड़ी में पांच-पांच, बागेश्वर में एक, चमोली में चार, रुद्रप्रयाग में तीन, ऊधमसिंह नगर में सात और उत्तरकाशी में छह मरीज सामने आए हैं। चंपावत और पिथौरागढ़ में एक भी मरीज सामने नहीं आया है। 



उत्तराखंड में एंट्री पर सीएम रावत बोले- जहां ज्यादा संक्रमण, वहां के लोग बिना कोविड रिपोर्ट न आएं


प्रदेश में अब तक 1708 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, आज 161 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया है। वहीं वर्तमान में 1162 सक्रिय मरीजों का उपचार चल रहा है। 

निम के सात प्रशिक्षु निकले संक्रमित, स्थगित कराया कोर्स

नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) में चल रहे बेसिक कोर्स में शामिल सात प्रशिक्षुओं की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। संक्रमितों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। संक्रमण के मामले आने के बाद निम प्रशासन ने संस्थान में चल रहे बेसिक व सर्च एंड रेस्क्यू कोर्स को स्थगित कर अन्य प्रशिक्षुओं को वापस भेज दिया है। 


बीते साल कोविड-19 महामारी के चलते निम में सभी पर्वतारोहण प्रशिक्षण कोर्स स्थगित कर दिए गए थे। संक्रमण की रफ्तार थमने पर निम में पुलिस एवं एनडीआरएफ आदि के स्पेशल कोर्स शुरू किए गए थे। बीते 20 मार्च को निम ने कोविड-19 की गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए अपने रेगुलर कोर्स शुरू किए। यहां बेसिक व सर्च एंड रेस्क्यू कोर्स शुरू होने पर इनमें क्रमश: 78 और 88 प्रशिक्षुओं को प्रवेश दिया गया।


कोर्स शुरू होने के अगले दिन ही एक प्रशिक्षु में कोरोना के लक्षण दिखने पर उसकी जांच कराई गई, जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया। उक्त प्रशिक्षु को आइसोलेट करने के साथ ही 25 मार्च को कोर्स में शामिल अन्य प्रशिक्षुओं की कोरोना जांच कराई गई। रिपोर्ट में छह और प्रशिक्षु संक्रमित मिले। सात प्रशिक्षुओं के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से संस्थान में हड़कंप मच गया। संस्थान ने दोनों कोर्स बंद कर प्रशिक्षुओं को वापस भेज दिया है। संस्थान को सैनिटाइज कराने के साथ ही यहां सभी लोगों की कोरोना जांच कराई जा रही है। 


कोर्स में शामिल होने पहुंचे प्रशिक्षुओं से 72 घंटे पहले की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट मांगी गई थी। सभी प्रशिक्षु रिपोर्ट भी साथ लाए थे। कोर्स शुरू होने के बाद एक प्रशिक्षु में लक्षण दिखने पर उसकी जांच कराई गई थी। उसके पॉजिटिव आने पर अन्यों की जांच भी कराई गई। जिसमें छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। फिलहाल दोनों कोर्स बंद कर प्रशिक्षुओं को लौटा दिया गया है। निम कैंपस को सैनिटाइज कराया जा रहा है। इसके बाद कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करते हुए कोर्स शुरू किए जाएंगे।

-  लै.कर्नल योगेश धूमल , उप प्रधानाचार्य , निम  

Source

Post a Comment

0 Comments