Header Advertisement

होली 2021: इस समय करें होलिका दहन, राशि के अनुसार जानें किस रंग से होली खेलना होगा शुभ

उत्तराखंड में होली
उत्तराखंड में होली

प्रेम और सौहार्द का त्योहार होली रविवार और सोमवार को मनाया जाएगा। रविवार को होलिका दहन किया जाएगा। इस बार होलिका दहन में अशुभ माना गया भद्रा योग बाधा नहीं रहेगा। होलिका दहन का शुभ मुहूर्त शाम साढ़े छह बजे से रात साढ़े आठ बजे तक रहेगा। इसके बाद चौघड़िया में शुभ, लाभ व अमृत के दौरान भी होलिका दहन किया जा सकता है। होलिका दहन 28 मार्च को होगा, जबकि 29 मार्च को रंगों का त्योहार होली मनाई जाएगी।


होलिका दहन होली के एक दिन पहले फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इसके अगले दिन रंगों से खेलने की परंपरा है। ज्योतिषाचार्य पंडित विष्णु प्रसाद भट्ट ने बताया कि होलिका दहन के दिन भद्रा योग दोपहर एक बजे तक रहेगा। जबकि, होलिका दहन शाम को गोधुलि बेला के समय से शुरू होगा।


उधर, शुक्रवार को देहरादून के मुख्य बाजारों में होली की खरीदारी करने आए लोगों से दिन भर बाजार गुलजार रहे। बाजार में दुकानें रंग बिरंगे रंगों से गुलजार हैं।


ज्योतिषों का कहना है कि रंगों के बिना जीवन अधूरा है। हर रंग अपनी अलग कहानी बयां करता है। रंगों को ग्रहों का प्रतीक माना जाता है। प्रत्येक रंग किसी न किसी ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है।


ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक रंगों के त्योहार में अपनी राशि के अनुसार रंगों का इस्तेमाल करने से ग्रह-दोष से मुक्ति मिलती है। ज्योतिषाचार्य आचार्य डॉ. सुशांत राज ने बताया कि हर राशि का एक स्वामी होता है, जिसे भाने वाले रंग से होली खेलकर आप अपनी राशि पर होली का शुभदायक प्रभाव डाल सकते हैं। 

मेष राशि : मेष राशि वालों के लिए लाल रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। मेष राशि के स्वामी मंगल हैं और मंगल के शत्रु शनि माने जाते हैं। इसलिए मेष राशि वालों को होली खेलते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वह काले और नीले रंग से दूर रहें।


वृष राशि : वृष राशि के स्वामी शुक्र हैं और शुक्र एक चमकीला ग्रह है। इसलिए वृष राशि वालों के लिए होली पर सफेद रंग का इस्तेमाल करना लाभदायक होगा। इसलिए वृष राशि वालों को सफेदा लगाने के बाद होली खेलनी चाहिए। 


मिथुन राशि : मिथुन राशि के स्वामी बुध माने जाते हैं। इसलिए बुध ग्रह वालों को हरे रंग से होली खेलनी चाहिए। होली के दिन ज्यादा से ज्यादा हरे रंग का प्रयोग करना भी लाभकारी होगा। इससे होली का पर्व उनके लिए शुभकारी होगा।


कर्क राशि : कर्क राशि वालों को होली खेलते समय पानी का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करना चाहिए। कर्क राशि के स्वामी चंद्रमा हैं, जो जल के प्रतीक भी माने जाते हैं। इसलिए कर्क राशि वालों को पानी से होली खेलने से लाभ मिलेगा।

सिंह राशि : सिंह राशि के स्वामी सूर्य हैं और सूर्य की ऊर्जा प्राप्त करने के लिए सिंह राशि वालों को लाल, गुलाबी, नारंगी जैसे रंगों से होली खेलनी चाहिए। जबकि काले, नीले रंग से सिंह राशि वालों को दूर रहना चाहिए।


कन्या राशि : कन्या राशि के स्वामी भी बुध हैं। कन्या राशि वालों के लिए भी हरे रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। कन्या राशि वाले हरे रंग से होली खेलकर अपने समय को सुख देने वाला बना सकते हैं।


तुला राशि : तुला राशि के स्वामी शुक्र हैं। तुला राशि वालों को सफेदा का इस्तेमाल करने के बाद होली खेलना चाहिए। तुला राशि वालों के लिए टेशू के फूल से रंग बनाकर होली खेलना लाभकारी होगा।


वृश्चिक राशि : वृश्चिक राशि के स्वामी मंगल हैं। मंगल राशि वालों के लिए लाल रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। लाल रंग से होली खेलने से वृश्चिक राशि वाले ऊर्जावान होंगे। 

धनु राशि : धनु राशि के स्वामी गुरु बृहस्पति हैं। धनु राशि वालों के लिए पीले रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। साथ ही धनु राशि वाले प्राकृतिक रंगों जैसे कि हल्दी या केसर के रंग से होली खेलें, तो उन्हें विशेष लाभ मिलेगा।


मकर राशि : मकर राशि के स्वामी शनि हैं। शनिदेव को खुश करने के लिए मकर राशि वालों को काले और नीले रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। काले और नीले रंग से होली खेलने से मकर राशि वालों पर शनि देव प्रसन्न होंगे।


कुंभ राशि : कुंभ राशि के स्वामी शनिदेव हैं। कुंभ राशि वालों को नीले और काले रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। काले, नीले रंग से होली खेलने से उनका जीवन सुखमय व्यतीत होगा। 


मीन राशि : मीन राशि के स्वामी बृहस्पति हैं। मीन राशि वालों को प्राकृतिक रंगों के साथ पीले रंग से होली खेलना लाभकारी होगा। इसके साथ ही उनके ऊपर गुरु बृहस्पति की कृपा बनी रहेगी।

Source

Post a Comment

0 Comments