Uttarkashi news- मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद भी सड़क अधर में

Breaking news प्रतीकात्मक
Breaking news प्रतीकात्मक

 मोरी में धौला-सेवा-डोडरा क्वार मोटर मार्ग का निर्माण नहीं होने से मोरी क्षेत्र के आधा दर्जन गांवों के साथ ही हिमाचल प्रदेश के पांच गांवों के ग्रामीणों को भी भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री द्वारा चार बार सड़क की घोषणा करने के बाद भी अभी तक काम शुरू नहीं होने से ग्रामीणों में रोष है।


मोरी प्रखंड की फतेपर्वत पट्टी के बरी, पिसा, दांताधार, तुगोला, सेवा एवं दोगरी गांव आज भी सड़क से अछूते हैं। ग्रामीणों को धौला में सड़क मार्ग तक पहुंचने के लिए 5 से 15 किमी दुर्गम पैदल दूरी तय करनी पड़ती है। सर्दियों में भारी बर्फबारी के कारण सड़क अवरुद्ध हो जाती है। तब ग्रामीणों को सेवा बरी होते हुए पैदल आवाजाही करनी पड़ती है।


धौला निवासी पूर्व प्रधान थंपी सिंह ने बताया कि क्षेत्र में सेब, राजमा आदि नकदी फसलों के उत्पादन की अपार संभावनाएं हैं, लेकिन सड़क से अधिक दूरी के कारण लागत से अधिक ढुलान भाड़ा होने की वजह से ग्रामीण खेती बागवानी को आजीविका का जरिया नहीं बना पा रहे हैं। क्वार गांव के पूर्व प्रधान शंकर सिंह चौहान ने बताया कि चिड़गांव-डोडरा क्वार मोटर मार्ग आजकल भारी बर्फबारी से अवरुद्ध है।

धौला-सेवा 19 किमी मोटर मार्ग की प्रथम चरण की स्वीकृति शासन से मिल चुकी है। सड़क के सर्वे का कार्य पूरा हो चुका है। वन एवं राजस्व विभाग द्वारा संयुक्त निरीक्षण कर पत्रावली तैयार की जा रही है। औपचारिकताएं पूरी कर शीघ्र सड़क का निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा।

धीरेंद्र कुमार, ईई, लोनिवि पुरोला।