Hot Widget

Type Here to Get Search Results !

Uttarakhand News : खालिस्तान जिंदाबाद का नारा नहीं लगाने पर भाजपा नेता को पीटा

खालिस्तान जिंदाबाद और मोदी मुर्दाबाद नहीं कहने पर भाजयुमो नेता से मारपीट - फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर
खालिस्तान जिंदाबाद और मोदी मुर्दाबाद नहीं कहने पर भाजयुमो नेता से मारपीट - फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर

 सार

पूर्व प्रधानपति पर आरोपए मोदी मुर्दाबाद का नारा लगाने के लिए भी कहा, भाजपा नेता ने कोतवाली में दी तहरीर

विस्तार

उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर के सितारगंज में भाजयुमो के पूर्व जिलाध्यक्ष से मारपीट का मामला सामने आया है। पूर्व प्रधानपति पर आरोप है कि खालिस्तान जिंदाबाद और मोदी मुर्दाबाद नहीं कहने पर उसने भाजयुमो नेता से मारपीट की।


पूर्व प्रधानपति के खिलाफ मारपीट की तहरीर


पीड़ित नेता ने पुलिस को तहरीर दी है। हालांकि अभी तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है। भाजयुमो के पूर्व जिलाध्यक्ष आदेश ठाकुर ने कोतवाली में पूर्व प्रधानपति के खिलाफ मारपीट की तहरीर दी है।



खालिस्तान जिन्दाबाद-नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद का नारा लगाने को कहा


तहरीर के मुताबिक पूर्व प्रधानपति ने भाजयुमो के पूर्व जिलाध्यक्ष की गाड़ी के आगे अपनी गाड़ी लगाकर उनको गाड़ी से उतरने को कहा और बाहर आने पर उसने खालिस्तान जिन्दाबाद और नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद का नारा लगाने को कहा।


आरोपी को हिरासत में लिया गया


इससे इनकार करने पर उसने भाजयुमो नेता से मारपीट शुरू कर दी। मौके पर मौजूद लोगों के बीचबचाव करने पर आरोपी वहां से धमकी देता हुआ चला गया। भाजयुमो नेता कार्यकर्ताओं के साथ कोतवाली पहुंचे और तहरीर सौंपी, जिस पर आरोपी को हिरासत में ले लिया गया।

खालिस्तान समर्थन में वीडियो और पोस्ट डालने वाले युवक को किया था चिह्नित

बता दें कि साल 2019 में उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर में खटीमा, सितारगंज और बाजपुर के बाद अब एक बार फिर रुद्रपुर थाना क्षेत्र में फेसबुक पर खालिस्तान समर्थन में वीडियो और पोस्ट डालने अपलोड करने वाले एक युवक को पुलिस ने चिह्नित किया था।


पुलिस ने युवक से माफीनामा लिखवाकर भविष्य में उसे इस तरह की आपत्तिजनक पोस्ट अपलोड नहीं करने की चेतावानी देकर छोड़ दिया था। इससे पहले पुलिस सात खालिस्तान समर्थकों के खिलाफ कार्रवाई कर चुकी थी। 


पुलिस को एक युवक की ओर से फेसबुक पर खालिस्तान आंदोलन के नेता रहे जनरैल सिंह भिंडरवाला के समर्थन में वीडियो और पोस्टर फेसबुक पर पोस्ट किए जाने की सूचना मिली थी। पुलिस ने सर्विलांस की मदद से जांच कर रुद्रपुर में रहने वाले एक युवक को चिह्नित किया था। 


Source


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

उत्तराखंड की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें