सरकारी नौकरी का झांसा देने वाला तीसरा आरोपी गिरफ्तार

Crime
प्रतीकात्मक

 उत्तरकाशी पुलिस ने सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के मामले में फरार चल रहे तीसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है। मामले में पुलिस पहले ही दो आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

दिसंबर माह में विजयनगर ज्ञानसू निवासी बृजेश कुमार की तहरीर पर मुलायम सिंह व अन्य दो आरोपियों के उत्तराखंड सचिवालय में समीक्षा अधिकारी पद पर फर्जी प्रपत्र दिखाकर सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर नौ लाख रुपये की धोखाधड़ी का मामला सामने आया था। जिस पर पुलिस ने तीन जनवरी को दो आरोपियों को गिरफ्तार किया था। जबकि मामले में फरार तीसरे आरोपी की पुलिस को तलाश थी। बीते बृहस्पतिवार को पुलिस ने मुलायम सिंह निवासी कपलोग तहसील प्रतापनगर जिला टिहरी गढ़वाल को ब्रह्मखाल हरेती मोड़ से गिरफ्तार किया। उसके पास से पुलिस ने यूपी नंबर की एक मारुति कार, दो लैपटॉप, दो सिमकॉर्ड और एक डोंगल बरामद किया है। अन्य दोनों आरोपी यतेंद्र देव निवासी सहारनपुर, रवि कुमार बुलंद शहर को पुलिस तीन जनवरी को गिरफ्तार कर चुकी है। दूसरी ओर बृहस्पतिवार को आजाद कुमार पुत्र स्वर्गीय रामलाल और प्रदीप कुमार पुत्र स्वर्गीय मदन लाल ने भी इन्हीं तीनों आरोपियों के खिलाफ तहरीर दी। बताया कि उनके साथ साढ़े चार लाख रुपये की धोखाधड़ी की गई। उक्त आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का एक और मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। फरार आरोपी को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में चौकी प्रभारी बाजार रमन बिष्ट, मनीष कुमार, विजेंद्र चौहान, संजय सिंह आदि शामिल थे।

Previous Post Next Post