उत्तराखंड के सीएम तीरथ ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से फोन पर की बात, जानें दोनों के बीच क्या हुई बातचीत 


 यूपी में उत्तराखंड की बसों के प्रवेश पर जारी रोक जल्द खत्म हो सकती है। सीएम तीरथ सिंह रावत ने गुरूवार को यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से फोन पर इस सिलसिले में बात की। सीएम ने कहा कि यूपी की बसें नियमित रूप से उत्तराखंड की सीमा तक आ रही है, तो फिर भला उत्तराखंड की बसों पर रोक क्यों? सूत्रों के अनुसार यूपी सीएम ने उचित कार्यवाही का वादा किया है। उम्मीद की जा रही है कि एक हफ्ते के भीतर ही उत्तराखंड रोडवेज की बसों का संचालन भी शुरू हो जाएगा। सीएम ने गुरूवार को परिवहन मंत्री यशपाल आर्य के साथ रोडवेज के हालात पर विस्तार से चर्चा की। परिवहन सचिव डॉ. रंजीत कुमार सिन्हा, एमडी-रोडवेज अभिषेक रोहिला, जीएम-दीपक जैन आदि अधिकारियों से उन्होंने अपडेट लिया। वित्तीय स्थिति को सुधारने के लिए सीएम ने बैठक के बीच में ही वित्त सचिव अमित नेगी को भी बुला लिया था।


1. रेाडवेज कर्मियेां को एक महीने का वेतन और

सरकार रोडवेज कर्मचारियों को एक महीने का वेतन के लिए करीब 20 करोड़ रुपये और देगी। इसके लिए वित्त सचिव अमित नेगी को व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। कोरोना काल में उपजे आर्थिक संकट के कारण रेाडवेज कर्मचारियों को पिछले पांच महीने से वेतन नहीं मिला है।


2.हरिद्वार रोड वर्कशॉप जाएंगी ट्रांसपोर्ट नगर

सीएम ने हरिद्वार रेाड स्थित वर्कशॉप को ट्रांसपोर्ट नगर शिफ्ट करने के लिए रोडवेज को दो करोड़ रुपये देने का आश्वासन दिया। जल्द ही यह रकम जारी कर दी जाएगी। परिवहन मंत्री ने बताया कि बसों के यहां आने जाने पर हर महीने करीब 15 लाख रुपये का अतिरिक्त खर्च होगा। इससे फिजूलखर्ची पर रोक लगेगी।


3.डिपो होंगे कम और कर्मचारी भी

परिवहन मंत्री ने बताया कि फिजूलखर्ची रोकने के लिए कुछ डिपो को समाप्त किया जा सकता है। इस वक्त डिपों की संख्या 20 से ज्यादा है। साथ ही ओवरस्टॉफ की स्थिति को भी संतुलित किया जाएगा। 


परिवहन मंत्री यशपाल आर्य ने बताया कि सीएम ने रोडवेज के सभी विषयों पर गंभीरता से चर्चा की और इसमें सुधार के लिए सहायता का पूरा आश्वासन भी दिया है। जल्द ही सुधार नजर आने लगेगा।

Source