सीनियर सीटिजंस की हर मुश्किल एक फोन कॉल से होगी दूर, जानिए क्या है हेल्पलाइन नंबर 


 मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सीनियर सीटिजन नेशनल हेल्पलाइन एल्डरलाइन 14567 का उत्तराखण्ड में शुभारंभ किया है। भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय और उत्तराखण्ड सरकार के साझा प्रयास से हेल्पलाइन सेवा सुबह आठ बजे से रात आठ बजे के बीच बुजुर्गों की परेशानियों को हल करने का प्रयास करेगी। गुरुवार को आईटी पार्क में सेवा का शुभारंभ करते हुए सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के नारे के अनुसार यह हेल्पलाइन बुजुर्गों की समस्याओं को दूर करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड के दूरस्थ और पर्वतीय क्षेत्रों में बङी संख्या में वरिष्ठजन एकाकी जीवन जी रहे हैं।


कहा कि उत्तराखंड सरकार बुजुर्गों की समस्याओं के निदान के लिए प्रयासरत है। कहा कि बुजुर्गों के  लिए कई कल्याणकारी योजनाएं भी संचालित की जा रही हैं। हमें उन सभी तक पहुंचना है और उनकी समस्याओं का समाधान करना है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वरिष्ठ नागरिकों के लिए संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों की जानकारी ग्राम स्तर तक पहुंचाई जाए। इस मौके पर समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य ने कहा कि हेल्पलाइन से वरिष्ठ जनों की समस्याओं का समाधान घर बैठे होगा।


यह कॉल सेंटर नहीं बल्कि सच्चे मायनों में कनेक्ट सेंटर बनेगा। अपर सचिव समाज कल्याण रामविलास यादव ने कहा कि केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय और उत्तराखंड समाज कल्याण विभाग के साझा प्रयास से यह राष्ट्रीय हेल्पलाइन प्रारंभ की गई है।  इसमें सुबह आठ बजे से शाम आठ बजे तक इस पर सम्पर्क किया जा सकता है। हेल्पलाइन पर प्राप्त शिकायतों को प्राथमिकता पर दूर किया जाएगा। इस अवसर पर प्रमुख सचिव एल फैनई भी उपस्थित हुए।

Source