उत्तराखंड में कोरोना: 24 घंटे में 589 नए संक्रमित मिले, 31 की मौत,  3354 मरीज हुए स्वस्थ

कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर)
कोरोना वायरस की जांच (प्रतीकात्मक तस्वीर)

 उत्तराखंड में बीते 24 घंटे के भीतर 589 नए संक्रमित मिले और 31 मरीजों की मौत हुई है। जबकि 3354 मरीज स्वस्थ हुए हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 332067 हो गई है। वहीं, सक्रिय मामले घटकर 22530 पहुंच गए हैं।


स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक बुधवार को 27548 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं, देहरादून जिले में 136, हरिद्वार में 104, नैनीताल में 75, पिथौरागढ़ में 22, टिहरी में 21, चमोली में 50, अल्मोड़ा में 46, पौड़ी में 12, रुद्रप्रयाग में 13, ऊधमसिंह नगर में 70, उत्तरकाशी में 21, बागेश्वर में 17, चंपावत जिले में 2 संक्रमित मिले हैं।

प्रदेश में अब तक 6573 मरीजों की मौत हो चुकी है। जबकि 297122 मरीज संक्रमण को मात दे चुके हैं। संक्रमितों की तुलना में ठीक होने वाले मरीज ज्यादा होने से सक्रिय मामले घट रहे हैं।

कोरोना से युद्ध में महारथी साबित हुए मेडिसिन मैन मनीष 

कोरोना से जारी लड़ाई में फायरमैन मनीष पंत पुलिस के महारथी के तौर पर सामने आए हैं। पूरे प्रदेश में लोगों की सेवा में लगी पुलिस के साथ मनीष ने अपनी अलग छाप पहाड़ों और सुदूर क्षेत्रों में छोड़ी है। उन्होंने 74 से अधिक लोगों को दवाएं पहुंचाई हैं। इसके साथ ही कई लोगों को टेलीमेडिसिन के माध्यम से डॉक्टरों से संपर्क कराया है। 

मनीष पंत ने पिछले साल भी कोरोना काल में इसी तरह लोगों को दवाएं पहुंचाई थी। उस वक्त पुलिस ने उन्हें अपना मेडिसिन मैन बताया था। अकेले फायरमैन मनीष पंत ने सैकड़ों लोगों की जरूरत के समय मदद की थी।

इस साल भी उनहोंने उत्तरकाशी, टिहरी, पौड़ी, चमोली, देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल, चंपावत और पिथौरागढ़ तक दवाएं पहुंचाई हैं। मनीष वर्तमान में पुलिस मुख्यालय के मीडिया सेल में तैनात हैं। जो लोग दवाईयों का खर्च नहीं उठा सकते।

ऐसे जरूरतमंदों को मनीष स्वयं के खर्चे पर दवाएं उपलब्ध कराते हैं। मनीष ने यह कार्य पुलिस महानिदेशक की मुहिम मिशन हौसला के तहत किया है। उन्होंने आर्थिक तंगी वाले लोगों को अपनी तन्ख्वाह से भी मदद की है। 

Post a Comment

Previous Post Next Post