उत्तराखंड में कोरोना: 364 नए संक्रमित मिले, दो मरीजों की मौत, 2400 पार पहुंचे एक्टिव केस 

कोरोना की जांच
कोरोना की जांच 

 उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। शुक्रवार को 24 घंटे में 364 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। वहीं, दो मरीजों की मौत हुई है। प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 2400 पार पहुंच गई है। जबकि कुल मरीजों की संख्या 100911 पहुंच गई है।



स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार शुक्रवार को 9291 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं,  देहरादून जिले में सबसे अधिक 139 कोरोना संक्रमित मरीज मिले। हरिद्वार में 118, नैनीताल में 34, उधम सिंहनगर में 31, पौड़ी में 12, अल्मोड़ा और चंपावत में छह-छह, बागेश्वर और पिथौराढ़ में दो-दो, चमोली में एक, रुद्रप्रयाग और टिहरी में पांच-पांच और उत्तरकाशी में तीन संक्रमित मिले हैं। 



उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए लोगों से की जांच कराने की अपील


बता दें कि प्रदेश में अब तक 1721 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। संक्रमितों की तुलना में ठीक होने वालों की संख्या कम होने से सक्रिय मरीज बढ़ रहे हैं। शुक्रवार को सक्रिय मरीजों की संख्या 2404 पहुंच गई। प्रदेश में आज 194 मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया। अब तक 95649 मरीज ठीक हो चुके हैं।  बता दें कि प्रदेश में संक्रमितों की ठीक होने की दर 94.44 प्रतिशत है। 

देहरादून में दो दिन लॉकडाउन का पुराना वीडियो वायरल

राजधानी में शुक्रवार को एक वीडियो वायरल हो गया, जिसके बाद अगले दो दिन (शनिवार और रविवार) को पूर्ण लॉकडाउन रहने की अफवाह फैल गई। इस पर जिलाधिकारी ने स्थिति स्पष्ट की। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन को लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया है। शहर में मौजूदा व्यवस्था ही लागू रहेगी।


शुक्रवार सुबह किसी ने पिछले साल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया, जिसमें शनिवार और रविवार को राजधानी दून में लॉकडाउन रहने की जानकारी दी गई। एक साल पहले टीवी चैनल पर प्रसारित हुए इस वीडियो में जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव का बयान भी था। इसमें वे दून में कोरोना संक्रमण बढ़ने के चलते शनिवार और रविवार को लॉकडाउन की बात कह रहे थे। देखते ही देखते यह वीडियो तमाम व्हाट्सएप ग्रुप, फेसबुक समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल होने लगा। सभी जगह लोग एक-दूसरे से जानकारी लेने का प्रयास करने लगे।


जिलाधिकारी कार्यालय, एसएसपी कार्यालय और विभिन्न समाचार पत्रों के कार्यालयों में भी लोग फोन कर वीडियो की पुष्टि का प्रयास करते रहे। मामले की जानकारी सामने आने के बाद जिलाधिकारी कार्यालय ने बयान जारी कर वीडियो का खंडन किया। जिलाधिकारी डा. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि दून में लॉकडाउन को लेकर कोई भी निर्णय नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि पुराना वीडियो शेयर किया गया था, जिससे लोगों में भ्रम फैला। उन्होंने लोगों से इस तरह के वीडियो साझा न करने और अफवाहों से बचने की अपील की।

खानपुर बॉर्डर पर तैनात शिक्षक कोरोना संक्रमित

कुंभ के मद्देनजर खानपुर बॉर्डर पर तैनात शिक्षक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इससे अन्य कर्मचारियों में डर का माहौल है। स्वास्थ्य विभाग ने शिक्षक और उनके संपर्क में आए नौ अन्य शिक्षकों को होम आइसोलेट कर दिया है। कुंभ को लेकर खानपुर-यूपी बॉर्डर पर तैनात किए गए शिक्षकों की कोरोना की रैपिड जांच की गई।


इसमें एक शिक्षक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सीएचसी प्रभारी डॉ. विनीत कुमार ने बताया कि संक्रमित शिक्षक को घर पर 15 दिन के लिए आइसोलेट करा दिया गया है। उनके संपर्क में आए नौ और शिक्षकों को भी सात दिन के लिए होम आइसोलेट किया गया है।

सल्ट उपचुनाव के व्यय प्रेक्षक निकले कोरोना पॉजिटिव 

सल्ट विधानसभा उप चुनाव के लिए नियुक्त निर्वाचन व्यय प्रेक्षक समेत जिले में कुल 12 लोगों की कोरोना रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई है। व्यय प्रेक्षक को सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में आइसोलेट कराया गया है। अब उनके स्थान पर प्रीतम दत्ता को व्यय प्रेक्षक नियुक्त कर दिया गया है। उनके संपर्क में आए चार अन्य लोगों की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। 


 सल्ट विधानसभा उपचुनाव के लिए तैनात व्यय प्रेक्षक पूणे से अल्मोड़ा पहुंचे थे। संक्रमण के लक्षण पाए जाने पर उनकी कोरोना जांच की गई। शुक्रवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। चुनाव से पहले ही जिम्मेदार अधिकारी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया। कोरोना की पुष्टि होने के बाद उन्हें सुशीला तिवारी भेजा गया है। उनके अलावा जिले में 11 और अन्य लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।


संक्रमण की पुष्टि होने पर सभी लोगों को आइसोलेट कर दिया गया है। नए मरीजों के साथ जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 3394 पहुंच गई है, जिसमें से 3342 स्वस्थ हो चुके हैं। जबकि जिले में 27 एक्टिव केस हैं।

Source

Previous Post Next Post