Hot Widget

Type Here to Get Search Results !

विदेश से पार्सल मंगवाने के नाम पर ढाई लाख की धोखाधड़ी, विदेशी पत्नी समेत युवक गिरफ्तार


 उत्तरकाशी जिले में थाना कोतवाली पुलिस और एसओजी उत्तरकाशी की संयुक्त टीम ने पार्सल के नाम पर ढाई लाख रुपए की धोखाधड़ी करने के एक मामले में नाइजीरिया मूल के एक व्यक्ति और मणिपुर निवासी उसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस कार्यालय में शुक्रवार दोपहर को पत्रकारों से वार्ता करते पुलिस अधीक्षक मणिकांत मिश्रा ने बताया कि गत माह मई में भटवाड़ी ब्लॉक के ग्राम मानपुर  निवासी अभिषेक राणा ने थाना कोतवाली पुलिस को एक तहरीर दी। जिसमें उन्होंने बताया कि एक अज्ञात नम्बर से विदेश से पार्सल के नाम पर उनसे 2,50,000 रुपये की धोखाधडी हुई है। इसके आधार पर पुलिस द्वारा ने अज्ञात मोबाइल नम्बर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और विवेचना शुरू कर दी।


मामले को गंभीरता से लेते हुए मुकदमे के त्वरित अनावरण व अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु सीओ हीरालाल बिजल्वाण व थानाध्यक्ष विनोद थपलियाल की देखरेख में एसआई रमन बिष्ट व एसओजी उत्तरकाशी की एक संयुक्त टीम गठित कर दी। मामले की गहन छानबीन व सीडीआर विशलेषण के आधार पर दिल्ली के बसंत विहार क्षेत्र से दो लोगों को गिरफ्तार किया। जिसमें अवी थियोफिलस मारो पुत्र अवी निवासी रिज फर्म्स बिल्डिंग बी/271-ए तीसरा कमरा नंबर 301 पीएस बसंत कुंज नई दिल्ली, स्थाई पता- 123 मेन स्ट्रीट लीगल डिपार्टमेंट जोन 07, एबीवीजेए, नाइजीरिया और जेनत क्षेत्री पुत्री स्व. पीटर क्षेत्री उम्र 45 रिज फर्म बिल्डिंग, पीएस वसंत कुंज नई दिल्ली, स्थाई पता मंत्री पुखरी  जिला इंफाल पूर्वी मणिपुर को गिरफ्तार किया।  


 कस्टम अधिकारी के नाम पर करती थी महिला फोन 
उत्तरकाशी। पत्रकारों से वार्ता करते एसपी मणिकांत मिश्रा ने बताया कि महिला अभियुक्त स्वयं को एयरपोर्ट की कस्टम अधिकारी बताकर लोगों को फोन करती है और पार्सल में डॉलर व महंगे समान होने की बात बताकर कस्टम ड्यूटी/मनी लॉन्ड्रिग का झांसा देकर लोगों के साथ धोखाधड़ी कर पैसा ठगी का काम करती थी। बताया कि इनके द्वारा दूसरे लोगों की आईडी पर फेक सिमकार्ड खरीदकर कस्टमर से बात की जाती है। अभियुक्तों के विरूद्ध थाना देगलुर, जिला नांदेड महाराष्ट्र में धोखाधड़ी के मामला पंजीकृत है। वहीं अभियुक्त मारो 08 माह जेल में भी रह चुका है। वहीं अभियुक्त जेनत क्षेत्री मामले में वर्ष 2019 से फरार चल रही है। 


अभियुक्तों से यह सामान हुआ बरामद 
पुलिस अधीक्षक मिश्रा ने बताया कि अभियुक्त के पास से दो लैपटॉप, छह    मोबाइल, 11 सिमकार्ड, 02 हार्डडिस्क, 02 पेन ड्राईव बरामद हुई है। 


पुलिस टीम पुरस्कृत
गिरफ्तारी करने वाली टीम में थानायक्ष विनोद थपलियाल, रमन बिष्ट, मनीषा नेगी, नरेन्द्र पुरी, माजिद खान,एसओजी के ओसाफ खान,सुनील राणा शामिल थे। जिनको पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र नीरू गर्ग ने 5000 रुपये का पुरस्कार दिया है। 


Source


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

उत्तराखंड की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें