कोरोना की वजह से नहीं टूटेगा सरकारी नौकरी का सपना, सरकार आयु सीमा में देगी एक साल की छूट


 उत्तराखंड में सरकारी नौकरियों की भर्ती में बेरोजगारों को आयु सीमा में एक साल की विशेष छूट देगी। कोविड 19 महामारी के कारण भर्ती प्रक्रिया बाधित होने की वजह से सरकार ने यह निर्णय किया है। सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को इस बाबत कैबिनेट प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए हैं। बेरोजगारों के लिए सरकार का यह भी एक बड़ा राहत भरा फैसला होगा। सोमवार को सीएम ने बीजापुर स्टेट गेस्ट में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर कई विषयों पर चर्चा की। उन्होंने रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया को एक तय समय सीमा के भीतर पूरा किया जाए। कोविड 19 के कारण भर्ती प्रक्रिया डेड़ साल से ठप होने का मुद्दा भी सीएम के सामने आया। 



सीएम ने इसे गंभीरता से लेते हुए कहा कि बेरोजगारों को इस अवधि की रियायत मिलनी ही चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को इस बाबत कैबिनेट के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि प्रदेशवासियों को रोजगार एवं स्वरोजगार से जोड़ना राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में है। अधिक से अधिक लोगों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए पूरी योजना बनाई जाय। उन्होंने कहा कि कोविड पर प्रभावी नियंत्रण के लिए सभी पुख्ता व्यवस्थाएं रखी जाए। सीएचसी एवं पीएचसी स्तर तक ऑक्सीजन कन्संट्रेटर, ऑक्सीजन सिलेंडर एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाय। बैठक में मुख्य सचिव ओमप्रकाश, एसीएस राधा रतूड़ी, आनन्द वर्द्धन, सचिव अमित नेगी, शैलेश बगोली, सौजन्या, एसएन पांडेय, विशेष सचिव डॉ. पराग मधुकर धकाते, अपर सचिव अरूणेन्द्र चौहान, सचिव- अधीनस्थ सेवा चयन आयोग संतोष बडोनी आदि मौजूद रहे।

Source