"उत्तराखंड के 105 डिग्री कॉलेजों के 177 गेस्ट शिक्षकों की गई नौकरी, जानें इसकी वजह"


 "एमबीपीजी कॉलेज समेत राज्य के 105 डिग्री कॉलेजों में तैनात 177 प्रात: और सांध्यकालीन गेस्ट शिक्षक एक बार फिर बेरोजगार हो गए हैं। बुधवार को इन सभी शिक्षकों को कार्यकाल समाप्त होने के बाद कार्यमुक्त कर दिया गया है। इनमें एमबी पीजी कॉलेज हल्द्वानी के 15 गेस्ट शिक्षक भी शामिल हैं। कांग्रेस सरकार के समय डिग्री कॉलेजों में बढ़ती छात्र संख्या को देखते हुए सुबह और शाम के समय भी कक्षाएं संचालित करने का मन बनाया गया था।



इसके लिए उस समय 11 माह के लिए गेस्ट शिक्षकों की नियुक्ति की गई थी। हालांकि सुबह और शाम की कक्षा लगाने का यह फार्मूला ज्यादा दिन तक नहीं चल सका। ऐसे में इन शिक्षकों को भी अन्य प्राध्यापकों के साथ ड्यूटी कराई जाने लगी थी। हर साल 30 जून को गेस्ट शिक्षकों का अनुबंध समाप्त हो जाता है। इसके बाद आवश्यकता के अनुसार उच्च शिक्षा निदेशालय से इन शिक्षकों का अनुबंध बढ़ाने को लेकर शासन को पत्र भेजा जाता है। अनुमति मिलने के बाद दोबारा 11 माह तक इनकी सेवाएं ली जाती हैं। इस बार 30 जून को 177 गेस्ट शिक्षकों का 11 माह का अनुबंध समाप्त हो गया है।


उत्तराखंड उच्च शिक्षा उप निदेशक, डॉ. एनएस बनकोटी का कहना है कि राज्य के डिग्री कॉलेजों में सेवाएं दे रहे इन गेस्ट शिक्षकों का अनुबंध बढ़ाने को लेकर शासन को पत्र भेजा गया है। शासन से जो भी निर्देश मिलेंगे, उसके अनुरूप कार्यवाही की जाएगी।"

Source