DGP अशोक कुमार की फेक फेसबुक आईडी बनाकर आखिर किसने मांगे रुपये ? छह टीमें करेंगी खुलासा 


 साइबर ठगों ने उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार की फेक फेसबुक आईडी बनाकर ठगी की कोशिश की। कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के अनुसार, तनुज ओबरॉय पुत्र सुभाष ओबरॉय निवासी मोती बाजार ने साइबर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज करवाया है। इस तहरीर में कहा गया है कि सोमवार रात एक फेसबुक आईडी से मैसेज आया और दस हजार रुपये की मांग की गई। फेसबुक आईडी की प्रोफाइल पर डीजीपी की फोटो लगी थी। ओबरॉय ने जब परिजनों को यह बात बताई तो उन्हें शक हुआ। इसके बाद उन्होंने पुलिस से संपर्क साधा और पुलिस को पीड़ित ने एक नंबर भी उपलब्ध कराया। पुलिस के अनुसार, किसी साइबर ठग ने डीजीपी के नाम से फेक आईडी बनाकर ऐसी हरकत की है। इसकी जांच साइबर थाने की पुलिस भी कर रही है।


छह टीमें बनाकर जांच में लगाईं

इधर, पुलिस मुख्यालय की मीडिया सेल ने कहा है कि 14 जून को डीजीपी की फेक आईडी बनी थी। शुरुआती जांच में यह काम किसी प्रोफेशनल साइबर अपराधी का लग रहा है, जिसका कनेक्शन बिहार, झारखंड और राजस्थान से हो सकता है। वी. मुरुगेशन-आईजी-अपराध एवं कानून व्यवस्था के नेतृत्व में छह टीमें बनाई गई हैं, जो इसकी जांच करेंगी। इन राज्यों के वरिष्ठ अफसरों से भी वार्ता की गई है और जल्द ही इस प्रकरण का खुलासा कर दिया जाएगा।

Source