Type Here to Get Search Results !

upstox-refer-earn

क्या उत्तराखंड में एक हफ्ते और बढ़ेगा कोविड कर्फ्यू ? कुछ राहत मिलेगी या जारी रहेंगी पाबंदिया


 उत्तराखंड में कोविड कर्फ्यू अगले एक हफ्ते के लिए बढ़ना तय है। वहीं, सरकार सैलानियों की परेशानी को देखते हुए मसूरी और नैनीताल के बाजार शनिवार और रविवार को खोलने जा रही है, जबकि मंगलवार और बुधवार को दोनों शहरों के बाजार बंद रहेंगे। रविवार को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और कैबिनेट मंत्री व सरकारी प्रवक्ता सुबोध उनियाल के राजधानी से बाहर होने पर नई एसओपी जारी नहीं हो पाई। सरकारी प्रवक्ता उनियाल ने बताया कि अब सोमवार को नई गाइड लाइन जारी की जाएगी। कुछ रियायतों के साथ सरकार अगले एक हफ्ते के लिए कोविड कर्फ्यू बढ़ाने जा रही है।

उन्होंने संकेत दिए मसूरी और नैनीताल के बाजार अब शनिवार व रविवार को खुलेंगे, लेकिन राज्य में हफ्ते में पांच दिन का कोविड कर्फ्यू होने के चलते इन दोनों शहरों को मंगलवार व बुधवार को बंद रखा जाएगा, ताकि बाजारों को सेनेटाइज किया जा सके। कैबिनेट मंत्री ने बताया कि वीकेंड पर मसूरी और नैनीताल में काफी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं, लेकिन आसपास के पिकनिक स्पाट बंद होने से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सैलानियों की सहुलियत के लिए सरकार यह फैसला करने जा रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के अन्य शहरों में बाजार शनिवार व रविवार को बंद रहेंगे।


बाजार अब शाम सात बजे तक खुल सकते हैं

राज्य में सभी बाजार अब सुबह आठ बजे से शाम सात बजे तक खुल सकते हैं। इसके बाद कोविड कर्फ्यू लागू होगा। हालांकि होटल व रेस्टोरेंट रात दस बजे तक 50 फीसदी क्षमता के साथ खुल सकेंगे। अभी तक बाजार शाम पांच बजे तक ही खुल रहे थे। संक्रमण में गिरावट आने पर व्यापारी बाजार खोलने का दबाव बना रहे थे।

कोचिंग सेंटर 50 फीसदी क्षमता के साथ खुलेंगे

सरकार ने लगभग सवा दो माह से बंद कोचिंग सेंटर व जिम खोलने की भी तैयारी कर दी है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से बीती 18 अप्रैल से ये बंद हैं। अब सरकार दोनों को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोलने जा रही है। बाजार खोलने के बावजूद कोचिंग व जिम सेंटर पर प्रतिबंध से संचालकों में नाराजगी बढ़ रही थी।

डेल्टा प्लस को लेकर सरकार गंभीर

सरकार कोरोना के डेल्टा प्लस वैरिएंट को लेकर गंभीर है। कुछ राज्यों ने इस वैरिएंट के चलते सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। सरकारी प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने बताया कि राज्य सरकार भी इस वैरिएंट को लेकर चिंतित है, लिहाजा कुछ शर्तों के साथ कोविड कर्फ्यू अगले एक हफ्ते के लिए आगे बढ़ाया जा रहा है।


बार्डर पर नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना जरूरी

अन्य प्रदेशों से उत्तराखंड में प्रवेश करने पर कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना अभी भी अनिवार्य किया जा रहा है। इसमें आरटीपीसीआर, एंटीजन और ट्रूनेट जांच शामिल हैं। संबंधित जांच की 72 घंटें पूर्व की नेगेटिव जांच के बाद ही राज्य के भीतर प्रवेश की अनुमति दी जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

उत्तराखंड की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें