Type Here to Get Search Results !

upstox-refer-earn

Kumbh Mela 2021: कुंभ में भीड़ नहीं चाहती सरकार, कई राज्यों से किया नई ट्रेन और बस न चलाने का अनुरोध

हरकी पैड़ी
हरकी पैड़ी

कोरोना संक्रमण के चलते राज्य सरकार हरिद्वार कुंभ में किसी भी सूरत में भीड़ नहीं चाहती। मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र भेजकर उनसे सहयोग की अपील की है।

पत्र में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष से अनुरोध किया गया है कि कुंभ मेले के दौरान हरिद्वार के लिए कोई नई स्पेशल रेलगाड़ी नहीं चलाई जाए। आग्रह किया गया है कि हरिद्वार से रवाना होने वाली ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाए, ताकि ज्यादा से ज्यादा श्रद्धालुओं की वापसी हो सके।

मुख्य सचिव ने अपने पत्र में 11 अप्रैल और 14 अप्रैल के शाही स्नान का उल्लेख किया है। वहीं, मुख्य सचिव ने पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, उत्तरप्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार व झारखंड के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर, उनके राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या सीमित सुनिश्चित कराने में सहयोग की अपील की है। उन्होंने कुंभ मेले के दौरान हरिद्वार के लिए नई बसें नहीं चलाने का अनुरोध किया है। वहीं, कुंभ की एसओपी जारी करने के लिए मंत्रिपरिषद ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को अधिकृत किया है। माना जा रहा है कि जल्द ही एसओपी जारी हो सकेगी। 


ये चाहती है प्रदेश सरकार

सरकार चाहती है कि जिस दिन श्रद्धालु आएं, उसी दिन स्नान कर लौट जाएं। मेले के दौरान यात्रियों के ठहराव पर रोक लग सकती है। साथ ही 72 घंटे पुरानी कोविड निगेटिव जांच रिपोर्ट के साथ ही प्रवेश की अनुमति हो।

इन प्रमुख स्नानों पर भीड़ प्रबंधन चुनौती

महाशिवरात्रि       11 मार्च

सोमवती अमावस्या  11 अप्रैल

बैशाखी             14 अप्रैल

रामनवमी            21 अप्रैल

चैत्र पूर्णिमा           27 अप्रैल


कोरोना संक्रमण को देखते हुए बहुत सारे इंतजाम करने हैं। राज्यों से भी सहयोग मांगा जा रहा है। मंत्रिपरिषद ने मुख्यमंत्री को निर्णय लेने का अधिकार दे दिया है। वह संतों से बात कर निर्णय लेंगे।

- मदन कौशिक, शासकीय प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री, उत्तराखंड

Source

 

Top Post Ad

Below Post Ad

नवीनतम खबरों, तथ्यों और विषयों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें