Republic Day 2021: उत्तराखंड में आईजी दीपम सेठ और एसपी सीबीआई प्रसन्ना कुमार को मिलेगा राष्ट्रपति पदक

आईजी दीपम सेठ/ एसपी सीबीआई प्रसन्ना कुमार  .
आईजी दीपम सेठ/ एसपी सीबीआई प्रसन्ना कुमार 

 उत्तराखंड के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) दीपम सेठ और सीबीआई देहरादून के एसपी प्रसन्ना कुमार पाणिग्रही को राष्ट्रापति का पुलिस पदक दिए जाने की घोषणा हुई है। आईजी सेठ को विशिष्ट कार्यों के लिए और एसपी पाणिग्रही को सराहनीय सेवा के लिए सम्मानित किया जाएगा। 



आईजी सेठ उत्तराखंड कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं। वह वर्तमान में आईटीबीपी में प्रतिनियुक्ति पर हैं। राष्ट्रपति का पुलिस पदक के अलावा उन्हें आईटीबीपी महानिदेशालय ने पुलिस स्पेशल ड्यूटी मेडल और हाई एल्टीट्यूट मेडल भी दिए जाने की घोषणा की है। साथ ही पूर्वी लद्दाख में आईटीबीपी के विशेष ऑपरेशन का कुशल नेतृत्व करने के लिए उन्हें डीजी आईटीबीपी के इंसिग्निया (चिह्न) और कमेंडेशन रोल से भी सम्मानित किया गया है। 



इधर, इस वर्ष सीबीआई के 30 अधिकारियों को विशिष्ट और सराहनीय सेवा के आधार पर पुलिस पदक के लिए चुना गया है। इनमें से देहरादून सीबीआई की एंटी करप्शन ब्रांच (एसीबी) के एसपी प्रसन्ना कुमार पाणिग्रही को भी सराहनीय सेवा के लिए राष्ट्रपति का पुलिस पदक दिया जाएगा। एसपी पाणिग्रही मूल रूप से उड़ीसा के रहने वाले हैं और वह लगभग एक साल पहले देहरादून तैनाती पर आए हैं। 


वहीं, अल्मोड़ा में तैनात लीडिंग फायरमैन कुंवर सिंह राणा सराहनीय सेवा के आधार पर राष्ट्रपति अग्निशमन सेवा मेडल से सम्मानित होंगे। कुंवर सिंह राणा वर्ष 1996 में फायरमैन के पद पर भर्ती हुए थे। उन्हें वर्ष 2005 में लीडिंग फायरमैन पद पर प्रमोशन मिला था। वहीं, वर्ष 2014 से वे फायर स्टेशन अल्मोड़ा में कार्यरत है।


डिप्टी कमांडेंट बीएसएफ अनूप रावत को भी पदक 

उत्तराखंड के निवासी बीएसएफ के डिप्टी कमांडेंट अनूप सिंह रावत को भी सराहनीय सेवा के लिए राष्ट्रपति का पुलिस पदक से नवाजे जाने की घोषणा की गई है। रावत मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के मथाना गांव के रहने वाले हैं। वह 2017 से गृह मंत्रालय से संबंद्ध चल रहे हैं। 


इनअधिकारियों को भी मिलेगा राष्ट्रपति पुलिस पदक 

- एडीजी (सीआईडी व पीएसी) पीवीके प्रसाद

- एसपी पिथौरागढ़ सुखबीर सिंह

- एसपी मुकेश कुमार, पुलिस मुख्यालय

- एएसपी संचार उमेश चंद जोशी

- डीएसपी विजिलेंस पंकज कुमार उप्रेती

- सब इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह, पुलिस मुख्यालय

गणतंत्र दिवस पर पुलिस ने बढ़ाई चौकसी

गणतंत्र दिवस को लेकर हरिद्वार जिले भर में अलर्ट जारी है। अलर्ट को देखते हुए थाना प्रभारी व चौकी प्रभारी अपने-अपने क्षेत्रों में चेकिंग कर रहे हैं। वही जीआरपी व आरपीएफ भी रेलवे स्टेशनों पर अभियान चलाकर ट्रेनों व प्लेटफार्मों पर चेकिंग कर रही है। 26 जनवरी की शाम तक जिले की सभी सीमाओं पर विशेष अभियान चलाकर दूसरे प्रदेशों व जिलों से आने वाले वाहनों की चेकिंग की जा रही है।


सोमवार को कोतवाली ज्वालापुर प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी, रानीपुर कोतवाल योगेश सिंह देव, शहर कोतवाल अमरजीत सिंह, सिडकुल थाना प्रभारी एसएल बुटोला ने अपने क्षेत्र में मौजूद चौकी प्रभारियों के साथ वाहनों की चेकिंग कराई।


इसके साथ ही संदिग्ध लोगों से पूछताछ भी की। शहर के होटलों, लॉज व धर्मशालाओं में भी चेकिंग अभियान चलाया गया। होटलों, धर्मशालाओं व लॉज में रुके लोगों से पूछताछ की जा रही है। बम निरोधक दस्ते के साथ ही डॉग स्क्वायड टीम चेकिंग कर रही है। हरिद्वार व ज्वालापुर रेलवे स्टेशन पर सोमवार को जीआरपी व आरपीएफ ने भी संयुक्त चेकिंग अभियान चलाया। चेकिंग में जीआरपी के थाना प्रभारी अनुज सिंह व आरपीएफ प्रभारी बीएस चौहान समेत अन्य पुलिसकर्मी शामिल रहे। 


रेलवे स्टेशन पर विशेष यंत्रों से ट्रेनों में जाकर व प्लेटफार्म पर मौजूद यात्रियों के सामान की चेकिंग की। चेकिंग अभियान के दौरान हरिद्वार रेलवे स्टेशन के पार्किंग एरिया, यात्रियों के वेटिंग रूम, प्लेटफार्म, टैक्सी स्टैंड को भी खंगाला गया। बिना किसी कारण के स्टेशन परिसर में घूम रहे युवकों से पूछताछ भी की गई। पुलिस का यह चेकिंग अभियान मंगलवार की देर रात तक जारी रहेगा।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने बताया कि सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह चेकिंग अभियान में किसी भी तरह की लापरवाही न बरते। खासकर होटल, लॉज व धर्मशालाओं में विशेष चेकिंग अभियान चलाया जाए। 

Source


Previous Post Next Post