उत्तराखंड: 2500 रुपये में लगेंगे स्पूतनिक वी के दो टीके, उद्योगों को दिया कर्मचारियों को पैसे में वैक्सीन लगाने का विकल्प

स्पूतनिक वी - फोटो : सोशल मीडिया
स्पूतनिक वी - फोटो : सोशल मीडिया

 उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए 2500 रुपये में स्पूतनिक वी वैक्सीन की दो डोज लगेंगी। सरकार ने उद्योगों को पैसे देकर कार्यरत कर्मचारियों को स्पूतनिक वी वैक्सीन लगाने का विकल्प दिया है। जिससे उद्योगों में संक्रमण फैलने से रोका जा सके। राज्य औद्योगिक अवस्थापना विकास निगम (सिडकुल) ने इस संबंध में औद्योगिक संगठनों को पत्र जारी किया है। वहीं, औद्योगिक संगठनों का  कहना है कि उद्योगों को चालू रखने के लिए कर्मचारियों के वैक्सीनेशन की जरूरत है। सरकार ने उद्योगों की सुविधा के लिए वैकल्पिक व्यवस्था दी है।


उत्तराखंड : कोविड से अनाथ हुए बच्चों की मदद के लिए विभाग को शासनादेश का है इंतजार 


प्रदेश सरकार की ओर से उद्योगों में काम करने वाले कर्मचारियों को भुगतान के आधार पर टीकाकरण का प्रयास किया जा रहा है। जिसमें प्रति व्यक्ति स्पूतनिक वी के दो टीके लगाने के लिए 2500 रुपये का भुगतान करना होगा।


सिडकुल के प्रबंध निदेशक सविन बंसल की ओर से जारी पत्र में औद्योगिक संगठनों को सुझाव दिया गया कि जो उद्योग इस वैकल्पिक व्यवस्था के तहत कर्मचारियों के टीकाकरण में रूचि रखते हैं तो वे एक सप्ताह के भीतर कर्मचारियों की सूची दें।


एम्फोटेरिसिन : किडनी को खतरा तो है, लेकिन ब्लैक फंगस को जड़ से समाप्त करने का फिलहाल एकमात्र विकल्प


एक बार उद्योगों की ओर से टीकाकरण का सहमति प्रारूप जमा करने के बाद उद्योगों को प्रति व्यक्ति के हिसाब से दो टीके लिए 2500 रुपये की राशि जमा करनी होगी। सिडकुल की ओर से सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों को निर्देश दिए गए कि उद्योगों के साथ समन्वय बनाएं। 

 

कोरोना महामारी में उद्योगों को चालू रखने के लिए कर्मचारियों का वैक्सीनेशन जरूरी है। सरकार ने उद्योगों को पैसे देकर कर्मचारियों को वैक्सीन लगाने की वैकल्पिक व्यवस्था दी है। इसके लिए उद्योगों पर किसी तरह का दबाव नहीं है। सरकार के पास वैक्सीन की कमी है। जिससे उद्योगों के पास भुगतान के आधार पर कर्मचारियों को वैक्सीन लगाने का विकल्प दिया गया है। 

- पंकज गुप्ता, अध्यक्ष इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड

Source

और नया पुराने
उत्तराखंड की खबरों को ट्विटर पर पाने के लिए फॉलो करें

उत्तराखंड की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें