Header Advertisement

यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए अग्रिम आदेशों तक पूर्ण रूप से बंद रहेगा ऋषिकेश बदरीनाथ हाईवे

तोता घाटी में चल रहा है काम
तोता घाटी में चल रहा है काम 

 ऋषिकेश बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग-58 तोता घाटी में चल रहे काम के कारण यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए अग्रिम आदेशों तक पूर्ण रूप से बंद रहेगा। वहीं आगामी 30 अप्रैल तक चारधाम यात्रा के दृष्टिगत सभी व्यवस्थाएं पूरी कर लिए जाएं मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने इस बाबत निर्देश जारी किए हैं।



वैकल्पिक रास्तों से होगा यहां आवागमन


अग्रिम आदेशों तक यहां का आवागमन वैकल्पिक रास्तों से होगा। रविवार को जिलाधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी टिहरी को इसके निर्देश दिए थे। बता दे कि तोताघाटी में कटिंग और सड़क चौड़ीकरण का कार्य चल रहा है।



बार-बार काम को रोकने से काम की गति प्रभावित


यातायात के कारण बार-बार काम को रोकने से काम की गति प्रभावित होती है। वहीं यात्रियों की सुरक्षा को भी खतरा रहता है। इस दृष्टि से मुख्यमंत्री ने आवागमन के लिए वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए तोताघाटी को कुछ दिनों तक बंद करने के निर्देश दिए हैं।


बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग का सुधारीकरण कार्य चल रहा है


तोताघाटी में लंबे समय से बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग का सुधारीकरण कार्य चल रहा है। मलबा आने से यहां बार-बार यातायात बाधित हो रहा है। रविवार को तीन घंटे हाईवे बंद था। शनिवार को भी तोताघाटी में मलबा आने से लगभग 12 घंटे राजमार्ग अवरुद्ध रहा था। 


30 अप्रैल तक पूरी की जाएं चारधाम यात्रा की सभी व्यवस्थाएं


वहीं सोमवार को मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सचिवालय में चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आगामी 30 अप्रैल तक यात्रा के दृष्टिगत सभी व्यवस्थाएं पूरी कर ली जाएं।


किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं


उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि कार्य के प्रति किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कार्य की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। कहा कि एक माह में कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया जाएगा।

Source

Post a Comment

0 Comments