Type Here to Get Search Results !

upstox-refer-earn

मनरेगा कर्मियों ने तीसरे दिन भी कार्य बहिष्कार पर ब्लाक मुख्यालयों में दिया धरना

लमगड़ा ब्लाक कार्यालय प्रांगण में धरना देते मनरेगा कर्मचारी।
लमगड़ा ब्लाक कार्यालय प्रांगण में धरना देते मनरेगा कर्मचारी।

 अल्मोड़ा/मौलेखाल। मनरेगा कर्मचारी संगठन का ग्राम्य विकास और पंचायती राज विभाग में समायोजित करने, समान कार्य के लिए समान वेतन देने आदि मांगों को लेकर तीसरे दिन भी कार्य बहिष्कार जारी रहा। मनरेगा कर्मी अपने-अपने ब्लाक मुख्यालयों में धरना दे रहे हैं। बुधवार को भी ब्लाक कार्यालय परिसरों में धरना देकर मनरेगा कर्मियों ने विरोध प्रदर्शन किया। कार्य बहिष्कार से मनरेगा योजना के तहत किए जाने वाले कार्य प्रभावित हो रहे हैं।


लमगड़ा ब्लाक के मनरेगा कर्मचारियों ने भी कार्य बहिष्कार कर विकासखंड कार्यालय प्रांगण में धरना दिया।धरने में कमल कुमार, रवींद्र मुस्यूनी, मनोज जोशी, मनीष सोराड़ी, दीवान सिंह, हरीश सिंह, गोविंद सिंह, उमेश पांडे, विवेक ढैला आदि बैठे। ज्येष्ठ उप प्रमुख दीवान बोरा ने भी आंदोलन को समर्थन जताया। उधर हवालबाग, सल्ट ब्लाक मुख्यालय पर भी मनरेगा कर्मचारी धरना जारी रखे हुए हैं।


मनरेगा कर्मियों के हड़ताल से ग्राम पंचातयों में मनरेगा कार्य ठप

गरुड़(बागेश्वर)। मनरेगा कर्मियों ने के हड़ताल में चले जाने से विकास खंड के गांवों में मनरेगा के कार्य ठप हो गए है। मनरेगा कर्मियों ने निर्णय लिया है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होती तब तक आंदोलन जारी रहेेगा।

मनरेगा कर्मियों ने नियमितीकरण की मांग लेकर विकास खंड मुख्यालय पर धरना दिया। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होती तब तक आंदोलन जारी रहेगा। ग्राम प्रधान कौशल्या भंडारी, प्रकाश कोहली, चंदन सिंह परिहार, हिमांशु खाती, नीमा अल्मिया आदि प्रधानों ने मनरेगा कर्मियों की मांग को जायज बताया। ग्राम प्रधान संगठन के ब्लॉक अध्यक्ष हिमांशु खाती ने सीएम को भेजे पत्र में कहा है कि मनरेगा कर्मियों के हड़ताल पर जाने से ग्राम पंचायतों में मनरेगा के कार्य ठप हो गए है। निर्माण कार्यों के मस्टरोल जारी नहीं हो पा रहे है। मजदूरों को श्रम का भुगतान नहीं हो पा रहा है।

Source

Top Post Ad

Below Post Ad

नवीनतम खबरों, तथ्यों और विषयों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें