मौसम: उत्तराखंड में 05 को भी बारिश-बर्फबारी का येलो अलर्ट, ओलावृष्टि की भी चेतावनी जारी

उत्तराखंड में शुक्रवार को भी मौसम का मिजाज खराब रहेगा। मौसम विभाग की ओर से बारिश और बर्फबारी की संभावना जताते हुए येलो अलर्ट जारी किया गया है

Snowfall
Snowfall

उत्तराखंड में शुक्रवार को भी मौसम का मिजाज खराब रहेगा। मौसम विभाग की ओर से बारिश और बर्फबारी की संभावना जताते हुए येलो अलर्ट जारी किया गया है। दून और नैनीताल जिले में ओलावृष्टि की संभावना जताई गई है। वहीं, 2200 मीटर ऊंचाई वाले इलाकों में अच्छी बर्फबारी के आसार बताए गये हैं।
मौसम निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक शुक्रवार को मौसम में गुरुवार की तरह ही रहने की संभावना है। बारिश और बर्फबारी देखने को मिलेगी। ऊंचाई वाले इलाकों में अच्छी बर्फ मिल सकती है। वहीं मैदानी इलाकों में बारिश से तापमान में गिरावट होगी। आपदा प्रबंधन विभाग एवं पुलिस और प्रशासन को सर्तक रहने के लिए कहा गया है। क्योंकि सड़के जाम एवं बर्फबारी से फिसलन हो सकती है।

राजधानी देहरादून में अधिकतम पारा सामान्य से चार डिग्री नीचे
देहरादून। देहरादून में पूरे दिन और देर शाम को भी बारिश होने से ठिठ़ुरन बढ़ गई। दून का अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री नीचे दर्ज किया गया। वहीं न्यूनतम पारा भी सामान्य से एक डिग्री नीचे चला गया। देर रात तक तेज सर्द हवाएं चलती रही। जिससे जनजीवन प्रभावित हुआ। दून अस्पताल के वरिष्ठ फिजीशियन डा. जैनेंद्र कुमार, डा. अंकुर पांडेय कहते हैं कि ऐसी सर्द हवाओं से बचना चाहिये। जब भी बाहर निकले तो कई लेयर के कपड़े एवं सिर पर गर्म टोपी जरूर पहने। यह हवा बेहद परेशान कर सकती है। बर्फ देखने भी जाए तो लंबे जूते और भरपूर कपड़े पहने। छोटे बच्चों एवं बुजुर्गों को बाहर कतई न ले जाएं।

शहर अधिकतम न्यूनतम (तापमान) 
देहरादून 17.3 8.1
पंतनगर 23.5 7.1
मुक्तेश्वर 11.1 1.7
नई टिहरी 7.2 3.8
 

धनोल्टी, चकराता में बर्फ से ढ़की चोटियां, मसूरी में हल्की बर्फबारी, दून में बारिश से ठिठुरन बढ़ी
देहरादून/मसूरी/चकराता। उत्तराखंड में मौसम का मिजाज गुरुवार को एक बार फिर बदल गया। मसूरी में जहां सीजन की पहली बर्फबारी हुई। हालांकि बर्फ बारिश की वजह से ज्यादा देर नहीं टिक सकी। वहीं धनोल्टी, चकराता में ऊंची चोटियां बर्फ की सफेद चादर से ढ़क गई। पर्यटकों ने यहां पहुंचकर बर्फबारी का लुत्फ उठाया। उधर, दून में बारिश और सर्द हवाओं की वजह से ठिठुरन बढ़ गई है। 

धनोल्टी में पर्यटकों के चेहरे खिले, मसूरी में मिली मायूसी
मसूरी। 
धनोल्टी इलाके में अच्छी बर्फबारी होने से यहां पहुंचे पर्यटकों के चेहरे खिल उठे। जबकि मसूरी में बर्फ के बारिश की वजह से नहीं टिक पाने की वजह से पर्यटकों को मायूसी हाथ लगी। हालांकि ऐसा ही मौसम रहा तो अच्छी बर्फबारी यहां भी होने की संभावना जताई जा रही है। गुरुवार को पर्यटन नगरी मसूरी के लाल टिब्बा में सुबह से लेकर दोपहर दो बजे तक रुक-रुक कर बर्फबारी होती रही। लेकिन बर्फ जमीन पर नहीं टिक पाई। दो बजे के बाद हल्की धूप भी खिली। केवल पेड़ों पर ही टिकी नजर आई। वही सुरकंडा, धनोल्टी और नाग टिब्बा की ऊंची पहाड़ियां बर्फ से ढक गई हैं। बर्फ गिरने की सूचना के बाद काफी संख्या में पर्यटक धनोल्टी पहुंचे।

बुरांसखंडा, तुरतुरिया व धनोल्टी में पर्यटकों ने बर्फबारी का जमकर उठाया। धनोल्टी में पांच से छह इंच तक बर्फ गिर गई है। स्थानीय व्यापारी देवेंद्र बेलवाल ने बताया कि बर्फबारी से यहां के व्यापारियों, किसानों के साथ ही होटल व्यवसायियों के चेहरे खिले हैं। क्योंकि बर्फबारी से जहां व्यापार में इजाफा होगा, वहीं बर्फ से पानी के स्रोत बढ़ेगा जो खेती-बाड़ी के लिए भी काफी लाभकारी होगा। शुक्रवार तक बड़ी संख्या में पर्यटक आने की उम्मीद है। मसूरी व्यापार संघ के अध्यक्ष रजत अग्रवाल का कहना है कि बर्फबारी होने से यहां के व्यापार में इजाफा होगा। वहीं दिल्ली से आए पर्यटक शौर्य व संदीप ने बताया कि वह कल ही मसूरी आए थे, तब यहां पर धूप खिली थी। सुबह के समय बर्फ की फुहारें देखकर मन खुशस हो गया।

पुलिस प्रशासन मुस्तैद, आईटीबीपी से संपर्क साधा
मसूरी। 
मसूरी, धनोल्टी में बर्फबारी को देखते हुए और पर्यटकों के उमड़ने को लेकर पुलिस प्रशासन ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी है। आईटीबीपी के जवान भी रेस्क्यू को बुला लिये गये हैं। प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र असवाल ने बताया कि अतिरिक्त पुलिस फोर्स बुलाई गई है। आइटीबीपी, एनएच व पीडब्ल्यूडी से भी संपर्क किया जा रहा है। बर्फबारी के समय यदि कहीं पर रेस्क्यू करने की जरूरत पड़ी तो उसके लिए आईटीबीपी के 20 जवान बुलाए जाएंगे और लोक निर्माण विभाग से जेसीबी मंगवाई जाएगी। धनोल्टी में बर्फ को देखने के लिए अभी पर्यटकों को जाने दिया जा रहा है और इसके लिए लगातार धनोल्टी चौकी से संपर्क किया जा रहा है।

चकराता में बर्फबारी का दौर जारी
चकराता। चकराता क्षेत्र में बुधवार सुबह से ही मौसम का मिजाज बदल रहा था। ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो रही थी। गुरुवार सुबह चकराता छावनी बाजार एवं आसपास के इलाकों में बर्फबारी शुरू हो गई। ऊंचे इलाकों के साथ साथ निचले क्षेत्रों में भी रुक-रुक कर बर्फ पड़ रही है। ऊंचाई वाले इलाको लोखंडी, देवबन, खडम्बा, मोयला, टॉप व्यास शिखर आदि में छह इंच तक बर्फ जम चुकी है। चकराता छावनी बाजार व आस पास के इलाकों में एक से तीन इंच बर्फ जमी है। बर्फबारी से क्षेत्र के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है। अधिकतम तापमान चार और न्यूनतम माईनस एक दर्ज किया गया। यहां पर कडाके की सर्दी पड़ रही है।

देहरादून में दिनभर बारिश, ठिठुरन बढ़ी
देहरादून। 
दून में गुरुवार सुबह से ही रिमझिम बारिश शुरू हो गई। जो शाम तक जारी रही। बारिश की वजह से ठिठुरन बढ़ गई और लोग अपने घरों में कैद हो गये। बाजारों एवं सड़कों में सन्नाटा पसरा रहा। वहीं, दिन में ही कई जगहों पर अलाव सेकते नजर आए। दिन में दून में एक बार को धूप निकली तो लगा कि मौसम साफ होगा। लेकिन फिर से बारिश शुरू हो गई और शाम तक रुक-रुक कर बारिश होती रही। जिससे सर्द हवाएं भी दून में चलती रही। दून का पारा लुढ़क गया।

Source

एक टिप्पणी भेजें

Cookie Consent
हम ट्रैफ़िक का विश्लेषण करने, आपकी प्राथमिकताओं को याद रखने और आपके अनुभव को अनुकूलित करने के लिए इस साइट पर कुकीज़ प्रदान करते हैं।
Oops!
ऐसा लगता है कि आपके इंटरनेट कनेक्शन में कुछ गड़बड़ है। कृपया इंटरनेट से कनेक्ट करें और फिर से ब्राउज़ करना शुरू करें।
AdBlock Detected!
We have detected that you are using adblocking plugin in your browser.
The revenue we earn by the advertisements is used to manage this website, we request you to whitelist our website in your adblocking plugin.
Site is Blocked
Sorry! This site is not available in your country.