Type Here to Get Search Results !

upstox-refer-earn

पालिका बाड़ाहाट ने फूंकी पौने दो करोड़ की बिजली

Breaking news
Breaking news

 चालू वित्त वर्ष की समाप्ति से पहले सरकारी विभागों से बकाया वसूली ऊर्जा निगम के लिए सिरदर्द बनता जा रहा है। स्थिति ये है कि सात से ज्यादा विभागों पर निगम का करीब साढ़े तीन करोड़ से अधिक का बकाया है, जिसमें सर्वाधिक बकाया नगर पालिका बाड़ाहाट उत्तरकाशी पर 1.84 करोड़ है।

जिला मुख्यालय स्थित निगम का उत्तरकाशी डिवीजन भटवाड़ी, डुंडा एवं चिन्यालीसौड़ ब्लॉक में करीब 40 सरकारी विभागों को बिजली मुहैया कराता है, लेकिन इन विभागों में कई ऐसे हैं जो बिजली बिलों का बकाया चुकता करने के मामले में लंबे समय से लापरवाह बने हुए हैं। चालू वित्त वर्ष में बकाया वसूली को निगम ने संबंधित विभागों को नोटिस जारी कर दिए हैं। वित्त वर्ष की समाप्ति में केवल डेढ़ माह का समय शेष है।

किस पर कितना बकाया

विभाग - बकाया धनराशिनगर पालिका- 184 लाख
शिक्षा 101 लाख
स्वास्थ्य 18.89 लाख
वन विभाग 4.93 लाख
लोनिवि 4.46 लाख
पुलिस 1.93 लाख

पालिका से वसूली में रहा पेंच

पालिका से बिजली के बकाये की वसूली में एक बड़ा पेंच भी रहा है। पालिका उसकी भूमि पर निगम की परिसंपत्तियों का हवाला देकर बिल भुगतान से बचती है। परिसंपत्तियों के एवज में किराया मांगने से निगम के सुर भी धीमे पड़ जाते हैं। ईई मनोज गुसाईं का कहना है कि पालिका को सार्वजनिक परिसंपत्तियों का किराया मांगने का कोई अधिकार नहीं है।

विभागों को अपने वार्षिक बजट में बकाये भुगतान का प्रावधान रखना चाहिए। सभी बकायेदार विभागों को नोटिस जारी कर दिए गए हैं। बकाया न चुकाने पर विभागों के कनेक्शन काटने की कार्रवाई शुरू की जाएगी। -मनोज गुसाईं, ईई विद्युत।

कुछ समय पहले ही बकाया बिल में से 25 लाख जमा कराए गए हैं। अभी फाइनल बिल नहीं मिला है। मार्च में कुछ और बकाया धनराशि जमा करेंगे।
हयात सिंह रौतेला, ईओ नगर पालिका बाड़ाहाट।

Top Post Ad

Below Post Ad

नवीनतम खबरों, तथ्यों और विषयों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें