राम मंदिर निर्माण के लिए फक्कड़ बाबा ने दिए एक करोड़ रुपये, ट्रस्ट को खुशी-खुशी सौंप दी जिंदगी भर की कमाई

राम मंदिर के लिए बाबा ने दिए एक करोड़ रुपये
राम मंदिर के लिए बाबा ने दिए एक करोड़ रुपये
 
 श्री राम मंदिर निर्माण के लिए समर्पण राशि का दायरा दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। ऋषिकेश में स्वार्गाश्रम स्थित टाट वाले बाबा के शिष्य 83 साल के फक्कड़ बाबा स्वामी शंकर दास ने अपने जीवन भर की अर्जित कमाई एक करोड़ रुपये की धनराशि को चेक समर्पण निधि के रूप में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को अयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण के लिए सौंपा। 


बुधवार दोपहर फक्कड़ बाबा स्वामी शंकर दास एक करोड़ की समर्पण निधि का चेक लेकर ऋषिकेश की एसबीआई की मुख्य शाखा के प्रबंधक विक्रम सिंह नेगी के पास पहुंचे। इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला संघचालक सुदामा सिंगल भी मौजूद रहे। इस अवसर पर स्वामी शंकर दास ने बताया कि वह यह निधि  50 वर्षों से इसी पुण्य कार्य के लिए जमा कर रहे थे। 


शंकर दास महाराज का जीवन अत्यंत साधारण रहा है। उन्होंने अपने जीवन के 60 साल गुफा में रह कर बिताए हैं। उनके गुरु टाट वाले बाबा थे, जो महर्षि महेश योगी, विश्व गुरु महाराज और मस्तराम बाबा के समकालीन थे। स्वामी शंकर दास ने अपने गुरु के साथ-साथ काफी समय इन सब विभूतियों के सानिध्य में बिताया। उन्होंने अपने जीवन में अपने लिए कभी कोई सुख सुविधा नहीं जुटाई और सारा जीवन गुफा में ही बिताया। 


इसीलिए उन्हें लोग फक्कड़ बाबा के नाम से जानते हैं। मात्र दो जोड़ी कपड़ों में रहने वाले शंकर दास का कहना है कि उनके जीवन का जो लक्ष्य था या कहें कि एक सपना था कि मेरे जीते जी मैं राम मंदिर बनता हुआ देख पाऊं, अब पूरा होने जा रहा है। इसलिए उन्होंने अपने जीवन की समस्त पूंजी राम मंदिर के निर्माण के लिए दान दे दी। इस अवसर पर स्टेट बैंक के मैनेजर विक्रम नेगी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सदस्य रीतेंद्र चौहान और दीप्ति नौनी आदि मौजूद रहे। 

सिंधी बिरादरी ने राम मंदिर के लिए दीं चांदी की ईंटें
सिंधी बिरादरी ने राम मंदिर के लिए दीं चांदी की ईंटें

वहीं, गणतंत्र दिवस के अवसर पर सिंधी बिरादरी की ओर से 201 चांदी की ईंटें जिनका वजन 201 किलोग्राम है अयोध्या में श्री राम मंदिर के निर्माण के लिए राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट को भेंट की गईं। यह कार्य विश्व सिंधी सेवा संगम और सुहिंना सिंधी पुणे के सयुंक्त आयोजन के तहत संपन्न हुआ। सिन्धी बिरादरी ऋषिकेश द्वारा भी इस कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई गई। 

ऋषिकेश से एक प्रतिनिधिमंडल में पंकज चंदानी, राजेश चिचड़ा, विजय छाबड़ा, अनिल अरोड़ा, नीरज कुकरेजा एवम गौरव कुकरानी आदि कार्यक्रम में शामिल हुए। जहां उन्होंने ऋषिकेश सिन्धी बिरादरी का योगदान एक चांदी की ईंट श्री राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट को भेंट की। यह जानकारी सिंधी बिरादरी ऋषिकेश के महासचिव कृष्ण कुमार सिंधी ने दी।